DGP ने लगाई पटना पुलिस के अफसरों की क्लास:सभी SDPO और आधे से ज्यादा थानेदारों की परफॉर्मेंस खराब, सुधर जाने की दी नसीहत

पटना21 दिन पहले
DGP, संजीव कुमार सिंघल।

राजधानी समेत पूरे पटना जिला में क्राइम बढ़ा है। पटना सिटी का इलाका हो या फिर राजधानी का पश्चिमी इलाका, हर दिन हत्या, लूट और गोलीबारी समेत दूसरे आपराधिक वारदत हो रही है। अपराधी पूरी तरह से मस्त हैं।

जबकि, क्राइम कंट्र्रोल के नाम पर पुलिस पस्त हो गई है। जब तक बड़ी वारदात न हो तब तक पटना पुलिस के बड़े अधिकारी वारदात स्थल पर पहुंचते नहीं हैं। यह बातें तब सामने आई, जब बिहार पुलिस के मुखिया DGP संजीव कुमार सिंघल ने पटना पुलिस के अधिकारियों और थानेदारों का क्लास लिया।

DGP के साथ-साथ ADG भी थे

दरअसल, शनिवार को पटना पुलिस की क्राइम मीटिंग थी। इसमें रेंज IG से लेकर SSP, सभी सिटी SP, SDPO और जिले के शहरी से लेकर ग्रामीण थानों के थानेदार तक शामिल थे। मुख्यालय से क्लास लेने DGP के साथ-साथ ADG हेडक्वार्टर जितेंद्र सिंह गंगवार आए थे। सूत्रों की मानें तो करीब दो घंटे से अधिक देरी तक चले इस रिव्यू मीटिंग में DGP ने पटना पुलिस के उन सभी अफसरों और थानेदारों की क्लास लगाई, जिनके यहां क्राइम अनकंट्रोल है। इसमें खासकर पटना सिटी सब डिवीजन के तहत आने वाले सारे थानों के थानेदार हैं। इनके साथ ही पश्चिमी इलाके में बिहटा, मनेर और पूर्वी इलाके में मरांची, बाढ़ मोकामा के थानेदार शामिल हैं।

परफॉर्मेंस में सुधार नहीं होने पर कार्रवाई

अनकंट्रोल क्राइम, केस की पेंडेंसी, फरार अपराधियों को पकड़ने में नाकामयाबी, शराब की बिक्री को लेकर DGP ने पटना जिले के सभी SDPO को फटकारा है। इन सभी को जल्द से जल्द अपना खराब परफॉर्मेंस सुधारने की सख्त हिदायत दी गई है। अगर जल्द से जल्द फिल्ड में काम नहीं दिखाई दिया और परफॉर्मेंस में सुधार नहीं हुआ तो वैसे सभी अफसरों और थानेदारों को पटना से हर हाल में हटा दिया जाएगा। उनका ट्रांसफर दूसरे जिलों में कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...