• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Do Not Forget To Take The Advice Of Experts, BP Patients, If The Cold Is More, Then Go For A Walk Only When The Sun Comes Out

मौसम में बदलाव से बढ़े ब्रेन हेमरेज के मामले:विशेषज्ञों की सलाह दवा लेना न भूलें बीपी के मरीज, ठंड अधिक हो तो धूप निकलने पर ही टहलने निकलें

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आईजीआईएमएस में दो दिन में 10 मरीज भर्ती। - Dainik Bhaskar
आईजीआईएमएस में दो दिन में 10 मरीज भर्ती।

मौसम में अचानक बदलाव से ब्रेन हेमरेज के मामले बढ़ गए हैं। आईजीआईएमएस में दो दिन में 10 मरीज ब्रेन हेमरेज की शिकायत लेकर भर्ती हुए हैं। पहले से ब्रेन हेमरेज के चार मरीज भर्ती हैं। पीएमसीएच में एक सप्ताह के अंदर आठ ब्रेन हेमरेज के मरीज भर्ती हुए हैं। ठंड में ब्रेन हेमरेज के मामले बढ़ जाते हैं। इसलिए सावधानी बरतने की जरूरत है।

खासकर बुजुर्ग मरीजों को सावधानी बरतने की जरूरत है, क्योंकि दिन में गर्मी का अहसास होता है और देर रात ठंड। रात में लाेग पंखा चला लेते हैं और तड़के ठंड बढ़ने पर बंद नहीं करते हैं। इससे भी खतरा हाे सकता है। रात में ठीक-ठाक कपड़ा पहनकर सोना चाहिए। अचानक कमरे से बाहर निकलने या वॉशरूम जाने के लिए भोर में अधिकांश लोग निकलते हैं। इसी दौरान ब्रेन हेमरेज की शिकायत होती है।

ठंड में वैसे भी बीपी बढ़ जाता है। बीपी बढ़ेगा तो ब्रेन हेमरेज और हार्ट अटैक की आशंका बढ़ जाती है। इस तरह के मौसम में बीपी के मरीज को दवा कतई नहीं छोड़नी चाहिए। आईजीआईएमएस में जो मरीज भर्ती हुए हैं, उनमें कुछ लोग दवा लेना भूल गए थे तो कुछ ने डोज ठीक नहीं कराई थी तो कुछ को पता ही नहीं है कि उसको बीपी भी है।

चिकित्सक से ठीक करा लें दवा की डाेज
मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. मनीष मंडल ने कहा कि 10 आईसीयू बेड पर ब्रेन हेमरेज के मरीज भर्ती हैं। उन्होंने कहा कि ठंड तेज हो तो सुबह में धूप निकलने पर टहलने निकलें। अचानक कमरे से बाहर नहीं निकलें। बिस्तर से उठने के बाद थोड़ा सामान्य होने के बाद बाहर निकले। बीपी और शुगर की दवा नियमित लें। बीपी चेक कराकर चिकित्सक से दवा की डोज ठीक करा लें। ठंड में बीपी की दवा की कतई नहीं छोड़ें। ठंड में बीपी बढ़ जाता है। इसलिए इस मौसम में दवा छोड़ना घातक साबित हो सकता है।

खबरें और भी हैं...