पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Due To No Advertising Policy, Municipal Corporation Lost Rs 180 Crore In 3 Years Due To Illegal Hoarding banners

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बदइंतजामी:विज्ञापन नीति नहीं होने से अवैध होर्डिंग-बैनर लगने से नगर निगम को 3 साल में 180 करोड़ रुपए का नुकसान

पटना5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पैसा मिलता तो एक हजार आवास या 200 किमी सड़क का हो सकता था निर्माण

पटना नगर निगम में विज्ञापन को लेकर कोई नीति नहीं बनी है। इससे बगैर अनुमति बड़ी-बड़ी होर्डिंग और बैनर लगा दिए जाते हैं। पिछले तीन साल के दौरान निगम को 180 करोड़ का नुकसान हो चुका है। अगर विज्ञापन को लेकर नीति का निर्धारण होता, तो हर साल 60 करोड़ की आमदनी होती।

इसके साथ ही 10 करोड़ की आमदनी राजनेताओं के कार्यक्रम और विभिन्न अवसर पर लगने वाले बैनर-होर्डिंग से होती। एक्सपर्ट के मुताबिक इन पैसों से 200 किलोमीटर लंबी दो लेन सड़क या एक हजार आवास का निर्माण हो सकता था। शहर की क्षतिग्रस्त 350 किलोमीटर लंबी गलियों का निर्माण भी आसानी से हो सकता था।

जानकारी के मुताबिक पटना निगम क्षेत्र में लगभग 600 किलोमीटर की सड़क क्षतिग्रस्त है या 15 साल से अधिक समय से उसकी मरम्मत नहीं की गई है। वैसे भी निगम क्षेत्र में लगभग 800 योजनाएं पैसे की कमी से लटकी हुई हैं। फिलहाल अभी निगम की कमाई का एकमात्र साधन होल्डिंग टैक्स है, जिससे हर साल 43 करोड़ रुपए आते हैं।
नगर विकास विभाग में प्रस्ताव लंबित
विज्ञापन नीति निर्धारण का मामला नगर विकास विभाग में 2018 से लंबित है। इसके साथ ही नगर निगम को रोड कंटिग, ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के संबंध में सरकार द्वारा अंतिम निर्णय का इंतजार है। इसके बाद निर्धारित नीति के हिसाब टैक्स वसूला जाएगा। हालांकि 2018 में निगम बोर्ड की बैठक में प्रस्ताव पारित हो गया था। मंजूरी के लिए नगर विकास विभाग में भेजा गया था।

इस संबंध में नगर निगम के स्थायी समिति के सदस्य इंद्रदीप चंद्रवंशी और आशीष कुमार सिन्हा का कहना है कि नगर विकास विभाग में होर्डिंग टैक्स, फाइबर ऑप्टिकल, सड़क कटिंग सहित एक दर्जन मामले लंबित है। यदि सभी मामलों पर अंतिम निर्णय हो जाता तो, निगम की आमदनी बढ़ती और उसका इस्तेमाल विकास कार्यों में होता।

विज्ञापन नीति को लेकर विभाग की ओर से कुछ दिनों में निर्णय होना है। जिसके बाद निर्धारित नीति के मुताबिक होल्डिंग लगाने वालो से टैक्स वसूला जाएगा। -हिमांशु शर्मा, नगर आयुक्त, पटना नगर निगम

इतने पैसों में 60 हजार पौधे लग सकते हैं
डीएफओ एके ओझा ने बताया कि ग्रिल सहित एक पौधे लगाने में तीन हजार रुपए खर्च होते हैं। ऐसे में इतने पैसे में 60 हजार पौधे लगाए जा सकते हैं। जिससे पटना के आसपास क्षेत्र में भी हरियाली हो जाएगी। पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता डॉ. सुनील कुमार चौधरी के मुताबिक 180 करोड़ रुपए से 200 किलोमीटर लंबी दो लेन सड़क निर्माण किया जा सकता है। नगर विकास विभाग के कार्यपालक अभियंता सुनील कुमार सिंह के मुताबिक 180 करोड़ में गरीबों के लिए एक हजार आवास का निर्माण किया जा सकता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser