पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

संक्रमण का खतरा:दीघा घाट पर भी काेराेना से मृतकों की कर दे रहे अंत्येष्टि, डोम राजा ने कहा-पहचान करना मुश्किल

पटना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बांसघाट व गुलबी घाट पर ही कोरोना प्रोटोकॉल से दाह संस्कार की व्यवस्था
  • घाट पर शवों के अंतिम संस्कार के लिए प्रशासन की तरफ से कोई भी इंतजाम देखने को नहीं मिला

कोरोना से मरने वालाें का अंतिम संस्कार बांसघाट और गुलबी घाट पर हाेना है, लेकिन यहां चल रही वेटिंग को देखते हुए परिजन अन्य घाटों पर भी शव लेकर पहुंच जा रहे हैं। इस वजह से संक्रमण फैलने का खतरा है। सोमवार काे दैनिक भास्कर की टीम दीघा घाट पहुंची तो वहां एक साथ कई शव जल रहे थे, तो कई जलने के लिए कतार में लगे थे। 12 बजे तक 34 शव पहुंचे थे।

घाट पर शवों के अंतिम संस्कार के लिए प्रशासन की तरफ से कोई भी इंतजाम देखने को नहीं मिला। एक ही जगह कोविड मरीजों और अन्य शवों को साथ जलाए जा रहे थे। किसी को कोई रोकने-टोकने वाला नहीं था। घाट के डोम राजा ने बताया कि पहचाना करना मुश्किल है कि कौन कोविड मरीज का शव है और कौन नहीं। अगर पता चल जाता है कि कोई कोविड मरीज का शव है तो हमलोग उसे नहीं जलने देते हैं। बांस घाट या गुलबी घाट भिजवा देते हैं। लेकिन भीड़ की वजह से लोग चोरी-चुपके काेराेना मरीजों का भी शव जला दे रहे हैं। यहां पहले रोज 8-10 शव जलते थे, अभी 100 से ज्यादा हाे जा रहे हैं।

लकड़ी और कफन दुकानदार वसूल रहे मनमाना पैसा

शवों की बढ़ती भीड़ लकड़ी दुकानदार के लिए मुनाफाखोरी का जरिया बन गई है। एक ही दुकान होने से मोलभाव की भी गुंजाइश नहीं है। 40 किलाे लकड़ी की कीमत 1200 रुपए वसूली जा रही है। 30 रुपए मीटर वाला कफन 80 रुपए मीटर बेचा जा रहा है। हजामत करने के लिए हजाम 2100 रुपया प्रति बॉडी और परिजनों का प्रति व्यक्ति 500 रुपए अलग से चार्ज कर रहे हैं। दीपक हजाम ने कहा कि खतरा माेलकर काम कर रहे हैं। डोम राजा 10 हजार से लेकर परिजनों की हैसियत देखकर चार्ज कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें