P&M मॉल के फूड कोर्ट के 22 दुकान सीज:फूड इंस्पेक्टर ने छापेमारी के बाद सीज की दुकानें, खाने में कीड़े-मकोड़े मिलने की शिकायत

पटना2 महीने पहले

पटना के P&M मॉल के फूड कोर्ट के खाने में मिल रहे कीड़े-मकोड़े के लगातार शिकायत के बाद आज छापेमारी हुई। छापेमारी फूड इंस्पेक्टर ने खुद की। इसके बाद ये बात सही साबित हुई। फूड कोर्ट के दुकानों में से 22 दुकानों में फैले गंदगी के कारण तत्काल प्रभाव से बंद करा दिया गया।

पिछले एक महीने से P&M मॉल के फूड कोर्ट से शिकायतें मिल रही थी। खाने पीने की सामग्री में कीड़े मकोड़े। साफ सफाई को लेकर लगातार शिकायतें मिलने के बाद गुरुवार की देर शाम फूड इंस्पेक्टर अजय कुमार के नेतृत्व में खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने फूड कोर्ट के दुकानों में छापेमारी की। यहां फूड कोर्ट के तहत चल रहे दुकानों में खाद्य साग्रियों के कैटरिंग में मिठाई व खाने-पीने की चीझों के साथ कीड़े-मकोड़े भी देखे गए।

छापेमारी के दौरान ही गुलाब जामुन में मारा हुआ कॉकरोच दिखा। इस तरह के रसगुल्ला में मरी हुई मक्खी दिखी। जांच में साफ सफाई के भी किसी पैमाने को पूरा नहीं किया गया था। इसके बाद फूड इंस्पेक्टर ने वहां मौजूद 22 दुकानों को तत्काल प्रभाव से बंद करा दिया।

छापेमारी के नेतृत्वकर्ता खाद्य सुरक्षा विभाग के फूड इंस्पेक्टर अजय कुमार ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से ऐसी शिकायतें मिल रहीं थी कि खाने पीने की चीजों में मरे हुए कीड़े मकोड़े रहते हैं। दुकानदार से शिकायत करने पर कभी कभी वो लोग मानते और कभी उलझ जाते थे। उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले एक ग्राहक ने रसगुल्ले में कॉकरोच की शिकायत खाद्य सुरक्षा आयुक्त के सेंथिल कुमार से की थी। आयुक्त के निर्देश पर टीम गठित कर औचक छापेमारी की गयी। जिसके बाद गुलाब जामुनों को चेक किया गया तो कॉकरोच मिले।

उन्होंने बताया कि इन दुकानदारों पर कानूनी प्रक्रिया के तहत सुनवाई की जाएगी। जब तक मामले की सुनवाई पूरी नहीं होती तब तक इन दुकानों को खोलने की इजाजत नहीं दी जाएगी। फूड इंस्पेक्टर ने बताया कि यहां संचालित दुकानों में बासी वेज व नॉनवेज खाना परोसा जाता था। बासी मिठाइयां परोसे जा रहें हैं। जांच में किचन, गुलाब जामुन के भरे टीन तथा अन्य मिठाइयों में भारी मात्रा में कॉकरोच तथा मक्खियां मरी मिली। पिछले काफी समय से स्टोर किए गए मिठाइयों में से बदबू भी आ रहे थे।

खबरें और भी हैं...