खुद को नास्तिक बताने वाले मांझी माता के दरबार में:पूर्व CM परिवार समेत वैष्णो देवी मंदिर गए, माथे पर चंदन लगा पूजा की

पटना3 महीने पहले
वैष्णो देवी मंदिर से मांझी की तस्वीर। - Dainik Bhaskar
वैष्णो देवी मंदिर से मांझी की तस्वीर।

कभी खुद को नास्तिक बताने वाले बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी अब आस्तिक हो गए हैं। उन्हें भगवान में आस्था दिखी है। कभी भगवान राम को सिर्फ उपन्यास का एक पात्र मानने वाले HAM सुप्रीमो अब मंदिर की सीढ़ियां चढ़ने लगे हैं।

जी हां, पूर्व मुख्यमंत्री वैष्णो देवी मंदिर में जाकर पूजा अर्चना करते नजर आए हैं। वह कई मौकों पर हिंदू धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाले बयान दे चुके हैं। कभी उन्होंने कहा था, 'नास्तिक हूं। पूजा नहीं करता। मंदिर भी नहीं जाता हूं।'

साथ ही भगवान राम के अस्तित्व पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह एक उपन्यास के महज पात्र हैं। इनके ऐसे बयानों पर कई बार हंगामा हो चुका है, लेकिन जो तस्वीर दैनिक भास्कर के पास आई है, यह बताने के लिए काफी है कि मांझी अब कितने भक्तिमय हो गए हैं और उनमें कितनी आस्था जगी है।

माथे पर चंदन का टीका लगाकर पहुंचे वैष्णो देवी मंदिर

जो तस्वीर है, उसमें मांझी अपने पूरे परिवार के साथ वैष्णो देवी मंदिर की सीढ़ियों पर चढ़ते नजर आ रहे हैं। उनके माथे पर चंदन का तिलक भी लगा है। उन्होंने शनिवार को माता वैष्णो देवी का दर्शन किया और पूजा अर्चना की। मांझी की पार्टी हम के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष रजनीश कुमार ने इस बात की पुष्टि की है।

उन्होंने कहा कि मांझी वैष्णो देवी और अजमेर शरीफ यात्रा पर हैं। वह 23 मई को दिल्ली से अजमेर के लिए रवाना होंगे। इससे पहले उन्होंने वैष्णो देवी मंदिर में जाकर माताजी से बिहार और देश में सुख, समृद्धि और शांति की मन्नत मांगी।