स्वास्थ्य सुविधा:गांवों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने को सरकार प्रतिबद्ध : मंगल पांडेय

हाजीपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
स्वास्थ्यमंत्री के स्वागत स्ट्रेचर पर गमला ले जाती कर्मी। - Dainik Bhaskar
स्वास्थ्यमंत्री के स्वागत स्ट्रेचर पर गमला ले जाती कर्मी।
  • समाहरणालय में आयोजित समीक्षा बैठक में स्वास्थ्यमंत्री ने सुविधाओं की जानकारी ली

सरकार लोगों को स्थानीय स्तर पर ही बेहतर सुविधा देना चाहती है, जिसके लिए तेजी से कार्य किया जा रहा है। ये बातें वैशाली समाहरणालय सभागार में स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहीं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं से संबंधित मूल चीजों की जानकारी निचले स्तर के कर्मियों को दी जाय साथ ही स्थानीय स्तर पर ग्रामीण लोगों के साथ एवं जनप्रतिनिधि के साथ बैठक कर स्वास्थ्य संबंधी देय सुविधाओं के बारे में बताई जाए, ताकि लोग इसका बेहतर लाभ उठा सके। आशा कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित किया जाए साथ ही उनका भुगतान समय से किया जाय।
टेलीमेडिसीन के बारे में ली गयी जानकारी
समीक्षा के दौरान स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने टेलिमेडीसीन के बारे में जानकारी प्राप्त की। इसके बारे में सिविल सर्जन डॉ. प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि करीब 10 हजार लोगों को टेलिमेडिसीन का लाभ प्राप्त हुआ है। अगले दो महीने में इस व्यवस्था में और तेजी लायी जाएगी। इसमें हब पर स्पेशलिस्ट चिकित्सकों को बैठाया जाएगा।

स्वास्थ्य सेवाएं ग्रामीणों को बताने और आशा को प्रोत्साहित करने का आह्वान

सभी सीएचसी 30 बेडेड होंगे
मंगल पांडेय ने कहा कि अब सभी पीएचसी सीएचसी में परिवर्तित हो चुके हैं। वहां 30 बेड के अस्पताल का निर्माण होगा। जिसे अगले 18 माह में पूरा कर लिया जाएगा। वहीं एपीएचसी तथा स्वास्थ्य उपकेंद्र के लिए भी जमीन अधिग्रहित किया जाएगा। बैठक में डीडीसी विजय प्रकाश मीणा, हाजीपुर के विधायक अवधेश सिंह, महुआ के विधायक मुकेश रौशन, सिविल सर्जन डॉ प्रमोद कुमार सिंह, सभी प्रखंडों के चिकित्सा पदाधिकारी समेत अन्य लोग मौजूद थे।

मंत्री जी के स्वागत के लिए मेन गेट किया बंद
सदर अस्पताल में पीएसए संयंत्र उद्घाटन को लेकर मंत्री का कार्यक्रम तय हुआ था। जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों ने मरीजों के आने जाने के लिए बने सदर अस्पताल के मुख्य गेट पर सूचना चिपकाकर गेट को बंद कर दिया गया। गेट पर तैनात स्वास्थ्य कर्मी व पुलिस बल ने एम्बुलेंस व इमरजेंसी मरीजों को पोस्मार्टम हाउस के रास्ते से आने के लिए मजबूर किया। मरीजों को मजबूरन पोस्मार्टम हाउस के रास्ते से जाना पड़ा।

टीकाकरण और जांच की रफ्तार की सराहना
स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने जिले में कोविड जांच एवं टीकाकरण के लिए किए जा रहे प्रयासों और कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि आने वाला एक से दो माह हमारे लिए चुनौतीपूर्ण है। पर्व के अवसर पर बड़ी संख्या में लोग बाहर से आएगें। इस परिस्थिति में सघन जांच अभियान चलायी जाय। वैसे गांवों को चिन्हित किया जाय जहां बाहर से आने वाले लोगों की संख्या अधिक है वहां जांच की व्यवस्था करायी जाय। मंत्री ने कहा कि कोविड की स्थिति सामान्य हो रही है। इस स्थिति में रूटीन इम्यूनाइजेशन को बढ़ाया जाना चाहिए। समीक्षा के दौरान सभी पीएचसी पर सभी दवाओं की उपलब्धता की भी जानकारी ली गयी।

खबरें और भी हैं...