• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Hajipur Municipal Council Dissolved, Administrative Responsibility Of City Council Handed Over To ADM

पहल:हाजीपुर नगर परिषद भंग, एडीएम को सौंपी गई नगर परिषद की प्रशासकीय जिम्मेवारी

हाजीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राज्यपाल के आदेश से नगर विकास एवं आवास विभाग के अवर सचिव ने हाजीपुर नगर परिषद के भंग हो जाने की अधिसूचना जारी की है। नगर निकाय भंग होने की स्थिति में डीएम द्वारा प्राधिकृत किए गए वैशाली के अपर समाहर्ता को नगर विकास एवं आवास विभाग ने प्रशासक नियुक्त कर दिया है।
इस वजह से नगर निकाय किया गया भंग : नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक बिहार नगर पालिका अधिनियम की धारा 12 (8) के प्रावधानों के तहत उत्क्रमित नगर निकायों का कार्यकाल अधिसूचना निर्गत होने से 6 माह की अवधि तक ही होता है। उक्त अवधि के उपरांत विस्तारित नगर निकायों को नियमानुसार भंग कर दिया जाना है। नगर परिषद के भंग हो जाने के फलस्वरूप अधिनियम की धारा 12 (9) के प्रावधान अनुसार नगर परिषद में निहित सभी शक्ति और कृत्यों का प्रयोग या संपादन करने के लिए नगर परिषद से संबंधित जिला पदाधिकारी द्वारा प्राधिकृत अपर समाहर्ता को प्रशासक नियुक्त किया गया है। विस्तारित हाजीपुर नगर परिषद के अलावा मसौढ़ी, बक्सर, डुमरांव, शेखपुरा, बरबीघा, खगड़िया, नवादा, सिवान, बीहट एवं सुल्तानगंज शामिल है।
03 पंचायतें हुईं हैं शामिल: 39 वार्डों वाले हाजीपुर नगर परिषद के क्षेत्र विस्तार में हाजीपुर सदर के दिघी पूर्वी, दिघी पश्चिमी, कर्णपुरा पंचायत पूर्ण भाग को शामिल किया है।

विस्तारित नगर की अब यह है चौहद्दी

उत्तर में दौलतपुर देवरिया व विशुनपुर बालाधारी, दक्षिण में तेरसिया, पूरब में सुल्तानपुर व शुभई एवं पश्चिम में गंडक नदी अब विस्तारित नगर परिषद की चौहद्दी बन गई है। इस तरह 1991 की जनगणना के अनुसार उन तीनों पंचायतों की कुल जनसंख्या को शामिल करने पर विस्तारित हाजीपुर नगर परिषद की जनसंख्या 01 लाख 91 हजार 275 हो जाती है। वर्तमान में जनसंख्या 03 लाख के पार होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...