• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Home Minister Is Coming Back To Bihar Within 20 Days, Amit Shah Will Reach Chapra On JP's Birth Anniversary, Nitish Lalu Will Be Attacked

20 दिन में फिर बिहार आ रहे अमित शाह:जेपी की जयंती पर पहुंचेंगे छपरा, किसानों को करेंगे संबोधित

पटना2 महीने पहले

जब से बिहार की सत्ता से बीजेपी अलग हुई है तब से ही बीजेपी एक्शन मोड में है। खास तौर पर बीजेपी के केंद्रीय नेता बिहार को लेकर कुछ ज्यादा ही गंभीर हो गए हैं। तभी तो 20 दिन के अंदर गृहमंत्री अमित शाह का दूसरा कार्यक्रम बिहार में होने जा रहा है। दरअसल, अमित शाह स्वतंत्रता सेनानी और संपूर्ण क्रांति के प्रणेता जयप्रकाश नारायण की जयंती के मौके पर 11 अक्टूबर को छपरा के सिताबदियारा आ रहे हैं। अमित शाह इस दौरान जेपी को श्रद्धांजलि तो देंगे ही साथ ही एक साथ राजनीति के कई तीर नीतीश कुमार पर मारेंगे।

जिस तरह से अमित शाह ने पूर्णिया और किशनगंज में आकर सीमांचल को साधने की पूरी कोशिश की थी। उसी तरह से सिताबदियारा से अमित शाह छपरा, सीवान, गोपालगंज के इलाकों को भी साधेंगे। 11 अक्टूबर को अमित शाह पहले तो जयप्रकाश नारायण उनके गांव में श्रद्धांजलि देंगे। साथ ही उनकी एक बड़ी रैली आयोजित की जाएगी। इस रैली में अमित शाह के अलावा बिहार के सभी बड़े नेता मौजूद रहेंगे। इस कार्यक्रम को लेकर बिहार बीजेपी के नेताओं ने तैयारी शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि अमित शाह इस रैली के माध्यम से नीतीश कुमार जोरदार हमला करने वाले हैं। नीतीश कुमार और लालू यादव संपूर्ण क्रांति में जेपी के शिष्य हुआ करते थे। संपूर्ण क्रांति कांग्रेस सरकार के खिलाफ छेड़ा गया आंदोलन था। उसी दौरान देश में आपातकाल भी लगाया गया था भाजपा को छोड़कर नीतीश कुमार कांग्रेस, आरजेडी के साथ चले गए। अमित शाह इसी को आधार में रखकर नीतीश कुमार पर हमलावर होंगे। अमित शाह बताएंगे कि किस तरह से देश में आपातकाल लाने वाली कांग्रेस के साथ नीतीश कुमार गलबहियां कर रहे है।

छपरा के सांसद राजीव प्रताप रूडी ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री सुबह 10 बजे पटना एयरपोर्ट पहुंचेंगे। पटना से 11:15 बजे हेलिकॉप्टर से 12 बजे सिताबदियारा पहुंचेंगे। सिताब दियारा में लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जयंती कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद सिताबदियारा से चलकर 2:30 बजे अमनौर पहुंचेंगे। जहां छपरा, सीवान और गोपालगंज जिला के सहकारिता से जुड़े किसानों के सम्मेलन को अमित शाह संबोधित करेंगे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी ने बताया कि संपूर्ण क्रांति के प्रणेता लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जयंती पर सहकारिता से जुड़ी देशव्यापी योजना का सूत्रपात भी सिताबदियारा से होगा। उन्होंने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री सह सहकारिता मंत्री अमित शाह सहकारिता से जुड़ी देशव्यापी योजना का शुभारंभ कर जेपी को सच्ची श्रद्धांजलि देंगे।

पूर्णिया में अमित शाह के निशाने पर रहे लालू-नीतीश:गृहमंत्री बोले-नीतीश प्रधानमंत्री बनने के लिए RJD- कांग्रेस की गोद में बैठ गए

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पूर्णिया की सभा में 31 मिनट तक नीतीश और लालू पर बरसे। शुरुआत में नारों की धीमी आवाज पर उन्होंने कहा कि लालू के पेट में दर्द समझ में आता है, आप लोगों को क्या हुआ है। सीमांचल जिलों में आया हूं तो लालू और नीतीश के पेट में दर्द होने लगा है। वे कह रहे हैं कि झगड़ा करवाएंगे। मैं कहता हूं कि ये काम आप लोग करते हैं, मेरी जरूरत नहीं है।

अमित शाह ने 2024 के लोकसभा का खाका भी खींच दिया। उन्होंने कहा कि सीमांचल के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। यहां नरेंद्र मोदी की सरकार है। अपने भाषण में उन्होंने बिहार में जंगल राज लौटने पर सवाल किए। नीतीश कुमार के गठबंधन को तोड़ने को छुरा घोंपने पर घेरा। नीतीश कुमार प्रधानमंत्री बनने के लिए RJD और कांग्रेस की गोद में जाकर बैठ गए। पूर्णिया में अमित शाह के भाषण की 5 बड़ी बातें और उनके मायने...

खबरें और भी हैं...