• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • If An Accident Occurs Due To An Uninsured Vehicle, The Vehicle Will Be Confiscated And Auctioned, The Amount Will Be Given To The Dependents Of The Victim.

बिना बीमा वाली गाड़ी से हादसा हुआ तो होगी जब्त:बिहार मोटर-गाड़ी नियमावली-1992 में संशोधन; वाहन नीलाम किया जाएगा, पीड़ित के आश्रितों को दी जाएगी राशि

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिना इंश्योरेंस के वाहन से दुर्घटना होने पर अब वाहन की जब्ती एवं नीलामी होगी। नीलामी से प्राप्त राशि मुआवजे के तौर मृतक के आश्रित/दुर्घटना पीड़ितों को दी जाएगी। 15 सितंबर से राज्य में यह व्यवस्था पूरी तरह से लागू हो जाएगी। सड़क दुर्घटना में मृत्यु होने पर आश्रित को 5 लाख रुपए मुआवजे की राशि मिलेगी। वहीं घायल होने की स्थिति में 50 हजार रुपए दिए जाएंगे। परिवहन सचिव संजय अग्रवाल ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद यह कार्रवाई की गई है।

सड़क दुर्घटना में मृत्यु होने पर आश्रित को 5 लाख, घायल होने पर 50 हजार मिलेंगे, बिहार मोटरगाड़ी नियमावली-1992 में भी किया गया संशोधन

यह व्यवस्था 15 सितंबर से पूरी तरह लागू हो जाएगी। बिना थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के वाहनों से सड़क दुर्घटना या मृत्यु होने पर वाहन को पुलिस जब्त कर नीलामी की प्रक्रिया शुरू करेगी। वाहन को तब तक नहीं छोड़ा जा सकेगा जब तक कि न्यायाधिकरण के निर्णय के अनुरुप मुआवजा नहीं मिल जाता। इसके लिए बिहार मोटरगाड़ी नियमावली,1992 एवं बिहार मोटर वाहन दुर्घटना दावा न्यायाधिकरण नियमावली,1961 में संशोधन किया गया है।

दावा न्यायाधिकरण के निर्णय के बाद 30 दिनों के अंदर वाहन मालिक द्वारा मुआवजा राशि जमा नहीं करने पर जिला पदाधिकारी को उक्त वाहन का अधिग्रहण करने एवं नीलामी के लिए प्राधिकृत किया जाएगा। वाहन की नीलामी से प्राप्त राशि कम होने की स्थिति में अंतर राशि बिहार वाहन दुर्घटना सहायता निधि से दी जाएगी।

सभी वाहन का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस कराना अनिवार्य
बिना थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के चलने वाले वाहनों पर कार्रवाई के लिए 1 सितंबर से विशेष जांच अभियान चलाया जाएगा। सभी वाहनों का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस कराया जाना अनिवार्य है। परिवहन सचिव ने सभी से अपील की है कि अनिवार्य रूप से अपने वाहनों का थर्ड पार्टी इंश्योरेंस करा लें। जांच के दौरान बिना थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के पकड़े जाने पर कार्रवाई तय है।