पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बिहार:आईजीआईसी को मिला नया भवन, दोगुने हुए बेड, जल्द शुरू होगा हार्ट ट्रांसप्लांट

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 1725 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन व 2548 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान के नव निर्मित दस मंजिलें भवन सहित 28 विभागों से जुड़े 1725 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन और 2548 करोड़ रुपए की योजनाओं का शिलान्यास किया। करीब नौ साल पहले मुख्यमंत्री ने ही आईजीआईसी के इस भवन का शिलान्यास किया था। राज्य का यह इकलौता अस्पताल हैं जहां सिर्फ दिल के मरीजों का इलाज होता है।

इस भवन के मिल जाने से आईजीआईसी में चिकित्सकीय सुविधाएं बढ़ेगी। संस्थान के निदेशक डॉ. अरविंद कुमार के मुताबिक नए भवन में 15 से 20 दिन मेंं ओपीडी शुरू हो जाएगी। गैस पाइपलाइन की व्यवस्था हो जाने पर इमरजेंसी को भी नए भवन में शिफ्ट किया जाएगा। नए भवन में हार्ट ट्रांसप्लांट शुरू करने की भी योजना है। पीएमसीएच के ब्रेन डेड मरीज से हार्ट लिया जाएगा।

आयुष्मान कार्डधारियों काे भी लाभ
निदेशक के मुताबिक नए भवन में दिल से संबंधित सारी चिकित्सीय सुविधाएं एक छत के नीचे बहाल करने की कोशिश होगी। आयुष्मान के लाभार्थियों का भी यहां इलाज होगा। सूत्रों के मुताबिक भवन निर्माण पर करीब 60 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। वैसे उपकरण आदि लेकर इस पर 133 करोड़ रुपए खर्च होंगे।

एक छत के नीचे हार्ट के इलाज की सभी सुविधाएं
गरीब मरीजों को यहां सारी सुविधाएं नि:शुल्क मिलेंगी। नया भवन मिल जाने से बेडों की संख्या 130 से बढ़कर करीब 280 हो जाएगी। इमरजेंसी में भी 40 बेड हो जाएंगे। तीन मॉड्यूलर ओटी के अलावा कैथ लैब की संख्या तीन हो जाएगी। नए भवन में सीटी एंजियो मशीन की व्यवस्था होगी। ओपीडी के लिए दस कमरे होंगे। आईसीयू में बेडों की संख्या 58 हो जाएगी। नए भवन के निचले तल्ले पर इमरजेंसी की व्यवस्था होगी। जबकि पहले तल्ले पर मेडिकल सीसीयू, टीएमटी, इको, होल्टर आदि जांच की सुविधा मिलेगी। जन्मजात दिल की बीमारी से पीड़ित बच्चों की सर्जरी की सुविधा बहाल हो जाएगी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें