पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टीका केंद्रों पर रहेगा उत्सवी माहौल:आईजीआईएमएस को कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए बनाया गया नोडल सेंटर

पटना14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वैक्सीन लेने के बाद छह सप्ताह तक बरतनी होगी सावधानी

कोरोना वैक्सीन देने की तारीख तय हो गई है। 16 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन लगना शुरू हो जाएगा। अबतक राज्य के 4.62 लाख स्वास्थ्यकर्मियों ने कोरोना टीका के लिए कोविन पोर्टल पर पंजीकरण किया है। यह जानकारी राज्य स्वास्थ्य समिति के सहायक निदेशक पीयूष कुमार चंदन ने दी। पटना में इसकी शुरुआत 15 अस्पतालों में होगी।

इनमें पीएमसीएच, एनएमसीएच, आईजीआईएमएस, पारस एचएमआरआई हॉस्पिटल, रूबन मेमोरियल हॉस्पिटल और बिग अपोलो अस्पताल शामिल हैं। बाकी अस्पतालों की सूची रविवार तक तैयार कर ली जाएगी। पटना में वैक्सीन के लिए करीब 37 हजार स्वास्थ्य कर्मियों की सूची तैयार की गई है। सभी केंद्रों पर टीके नि:शुल्क उपलब्ध होंगे और सभी को गाइडलाइन के तहत ही टीका मिलेगा। टीका लेने वाले सभी लाभार्थियों को उनके आईडी प्रूफ के साथ आना अनिवार्य होगा। वैक्सीन लेने के डेढ़ महीने तक पहले जैसे ही सावधानी बरतनी होगी। यानी मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और हैंड सेनेटाइजेशन का पालन करना होगा।

वैक्सीन लेने के छह सप्ताह के बाद इम्यूनिटी बननी शुरू होती है। दूसरा डोज 28 दिन बाद पड़ेगा। आईजीआईएमएस के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. मनीष मंडल ने बताया कि आईजीआईएमएस को नोडल सेंटर बनाया गया है। टीका केंद्र पर उत्सवी माहौल का लुक देना है। वैक्सीन के लिए संस्थान के डॉक्टर समेत 3 हजार कर्मचारियों की सूची भेजी गई है।

किसको किस दिन टीका पड़ेगा यह सब पोर्टल पर ही आएगा। बगैर रजिस्ट्रेशन और बगैर आईडी प्रूफ के टीका नहीं मिलेगा। वहीं डीआईओ डॉ. एसपी विनायक के मुताबिक राज्य में टीका देने के लिए 300 केंद्र निर्धारित किए गए हैं। पटना में केंद्रों का निर्धारण किया जा रहा है। हालांकि सभी बड़े सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन देने के लिए सेंटर बनाया गया है।

दूसरे चरण में फ्रंटलाइनर्स और तीसरे चरण में 60 साल से अधिक उम्र वालों को टीका
पीएमसीएच के प्राचार्य डॉ. विद्यापति चौधरी के मुताबिक अस्पताल में 3500 से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों को चार दिन में टीका देने के लिए 10 केंद्र बनाए जाएंगे। विभागों में ही केंद्र बनाया जाएगा उसके डॉक्टर और कर्मचारी को वहीं पर टीका लग जाए। डॉ. विनायक के मुताबिक स्वास्थ्य कर्मियों को टीका पड़ने के बाद दूसरे चरण में फ्रंटलाइनर्स और तीसरे चरण में 60 साल से अधिक उम्र वालों को टीका लगेगा। इसके बाद 50 से 60 साल के बीपी और शुगर के मरीजों को टीका दिया जाएगा।

21 जिलों को हो चुकी कोरोना टीका लगाने के लिए सीरिंज की आपूर्ति

राज्य में कोरोना टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह तैयार है। इसके लिए जरूरी इन्फ्रास्ट्रक्चर की भी व्यवस्था हो चुकी है। राज्य के सभी जिलों में कोल्ड चेन प्वाइंट को मजबूत बनाया गया है। टीकाकरण के दौरान कोई समस्या सामने नहीं आए, इसके लिए सभी जिलाधिकारी को इसका निरीक्षण करने का निर्देश दिया गया है। वे इसका लगातार निरीक्षण कर रहे हैं।

पहले चरण के टीकाकरण के लिए सरकारी और निजी स्वास्थ्य संस्थानों के स्वास्थ्य कर्मियों का पंजीयन सिरिंज पोर्टल पर किया जा रहा है। 21 जिलों को कोरोना टीके के लिए उपयोग में लाए जाने वाले सिरिंज की आपूर्ति भी की जा चुकी है। यह जानकारी राज्य स्वास्थ्य समिति के सहायक निदेशक पीयूष कुमार चंदन ने दी।

सहायक निदेशक ने बताया कि सभी टीका केंद्रों पर कोरोना टीकाकरण के बाद जैव जनित चिकित्सीय अपशिष्ट के प्रबंधन (बाया वेस्ट मैनेजमेंट) की व्यवस्था होगी। इसके लिए केंद्रों पर कलर कोडेड बैग्स पर्याप्त संख्या में उपलब्ध रहेगी। अपशिष्टों के बैग्स को निकटतम कोल्ड चेन प्वाइंट तक लाया जाएगा। वहां से इसे निष्पादन केंद्रों पर भेजने की व्यवस्था रहेगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपकी मेहनत व परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होगा। किसी विश्वसनीय व्यक्ति की सलाह और सहयोग से आपका आत्म बल और आत्मविश्वास और अधिक बढ़ेगा। तथा कोई शुभ समाचार मिलने से घर परिवार में खुशी ...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser