पटना में खिलाड़ियों ने सरकार के खिलाफ किया बवाल:कहा- खेल से खिलवाड़ बंद करो, RJD ने भी दिया समर्थन

पटना3 महीने पहले
नारेबाजी करते खिलाड़ी।

राजधानी पटना के डाकबंगला चौराहे पर राज्य खिलाड़ियों ने जमकर बवाल काटा। रविवार को खिलाड़ी सरकार के खिलाफ गुस्सा जाहिर कर रहे थे। उनका ये गुस्सा राज्य में खेल मैदान की कमी, बचे हुए खेल मैदान की दयनीय स्थिति, रोजगार नहीं मिलना, खेल में कैरियर नहीं दिखने को लेकर और साथ ही बिहार के खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर राज्य सरकार की लापरवाही को लेकर था। खिलाड़ियों में इतना आक्रोश था कि महिला और पुरुष खिलाड़ी दोनों डाकबंगला पर बीच सड़कों पर धरने पर बैठ गए थे। हाथों में पोस्टर था जिसपर खिलाड़ियों ने लिखा था 'खेल से खिलवाड़ और खेल पर खाना पूर्ति बंद करो, खिलाड़ियों को रोजगार दो संसाधन दो।'

ये प्रदर्शन बिहार प्लेयर्स एसोसिएशन के बैनर तले किया गया था। जिसमें राज्य भर से सैकड़ों महिला और पुरुष खिलाड़ी पहुंचे थे। इस प्रदर्शन को समर्थन करने राजद के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी भी पहुंचे थे। वो भी खिलाड़ियों के साथ बीच सड़क पर बैठ गए और सरकार के खिलाफ नाड़ेबाज़ी करने लगे।

इस दौरान मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि बिहार सरकार की खेल नीति फाइलों में धूल फांक रही हैं। सरकार बिहार के खिलाड़ियों पर थोड़ा भी ध्यान नहीं देती है। इससे खिलाड़ियों का भविष्य खराब हो रहा है। राज्य का तो स्थिति खराब है ही पटना में भी एक मैदान की स्थिति अच्छी नहीं है। बिहार सरकार को खिलाड़ियों के लिए उत्तम व्यवस्था करनी चाहिए। पूरे राज्य के अलग अलग जगहों पर मैदान बनाना चाहिए और खिलाड़ियों के उत्तम भविष्य की चिंता करनी चाहिए। अगर सरकार फिर भी नहीं सुधरी तो इसी तरह खिलाड़ी सड़कों पर उतरते रहेंगे।

खबरें और भी हैं...