कोरोनावायरस / पीएमसीएच के सात डॉक्टर और एक नर्स की जांच रिपोर्ट दोबारा पॉजिटिव, एम्स में गोड्डा की संक्रमित महिला की मौत

एनएमसीएच से सोमवार को कोरोना पॉजिटिव 6 मरीजों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी। स्वस्थ हुए मरीजों लखीसराय के 22 साल के युवक आनंद राज, पुआ गली पटना सिटी के 19 साल के युवक अभिषेक कुमार के अलावा ईस्ट चंपारण, किशनगंज, वैशाली, मुजफ्फरपुर के मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। एनएमसीएच से सोमवार को कोरोना पॉजिटिव 6 मरीजों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी। स्वस्थ हुए मरीजों लखीसराय के 22 साल के युवक आनंद राज, पुआ गली पटना सिटी के 19 साल के युवक अभिषेक कुमार के अलावा ईस्ट चंपारण, किशनगंज, वैशाली, मुजफ्फरपुर के मरीजों को डिस्चार्ज किया गया।
X
एनएमसीएच से सोमवार को कोरोना पॉजिटिव 6 मरीजों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी। स्वस्थ हुए मरीजों लखीसराय के 22 साल के युवक आनंद राज, पुआ गली पटना सिटी के 19 साल के युवक अभिषेक कुमार के अलावा ईस्ट चंपारण, किशनगंज, वैशाली, मुजफ्फरपुर के मरीजों को डिस्चार्ज किया गया।एनएमसीएच से सोमवार को कोरोना पॉजिटिव 6 मरीजों को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी। स्वस्थ हुए मरीजों लखीसराय के 22 साल के युवक आनंद राज, पुआ गली पटना सिटी के 19 साल के युवक अभिषेक कुमार के अलावा ईस्ट चंपारण, किशनगंज, वैशाली, मुजफ्फरपुर के मरीजों को डिस्चार्ज किया गया।

  • पटना में मिले 102 कोरोना संक्रमित, पालीगंज में आयोजित शादी से जुड़ी चेन मेंं 86 पॉजिटिव मिले
  • अबतक एम्स में 11 माैत, पटना सिटी में मिले छह और संक्रमित, एनएमसीएच में 30 संदिग्ध मरीज भर्ती

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:33 AM IST

पटना. पीएमसीएच के सात डॉक्टर और एक नर्स की कोरोना जांच की रिपोर्ट दोबारा भी पॉजिटिव आई। इसको लेकर डॉक्टरों में हड़कंप मचा हुआ है। इसमें छह महिला डॉक्टर गाइनी विभाग की है। महिला डॉक्टर कॉटेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। महिला डॉक्टरों के संक्रमित होने से गाइनी विभाग के लेबर रूम को बंद कर दिया गया है। लेबर रूम को संक्रमण मुक्त करने के लिए फ्यूमिगेट करके बंद कर दिया गया है।

अभी प्रसव के लिए आने वाली गर्भवती महिलाओं को भर्ती भी नहीं लिया जा रहा है। इधर, मुजफ्फरपुर कोरोना आइसोलेशन सेंटर के नोडल आफिसर भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। उन्हें पटना एम्स में भर्ती कराया गया है। पटना एम्स में कोरोना के नोडल ऑफिसर डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि उनकी हालत गंभीर है और वे वेंटिलेटर पर हैं।
पीएमसीएच में सोमवार को पटना के 16 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें सात डॉक्टर और नर्स की दोबारा जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पीएमसीएच में पटना के ही भर्ती एक संदिग्ध मरीज जयराम शर्मा की शनिवार की रात मौत हो गई थी। उसकी रिपोर्ट भी सोमवार को पॉजिटव आई है। रिपोर्ट पॉजिटव आने पर शव को सौंप दिया जाएगा। इसके अलावा सात और लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें एक ही परिवार के चार लोग संक्रमित मिले हैं। ये सभी संक्रमित नर्स के पड़ोसी है।  इसके अलावा तीन पॉजिटिव मरीज पीएमसीएच के स्टाफ हैं। 

बाढ़ और मोकामा में 2-2 मरीज
पटना में विभिन्न इलाकों में सोमवार को 102 मरीज कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। बाकी मरीज विभिन्न इलाकों के हैं। इसमें कंकड़बाग, गोबिंद मित्रा  रोड,नौबतपुर, मसौढ़ी, पटना सिटी, बख्तियारपुर के मरीज हैं। मसौढ़ी व धनरुआ में सोमवार को दो नए कोरोना पॉजिटिव लोग मिले हैं। इनमें एक 63 साल के बुजुर्ग हैं जो पालीगंज शादी समारोह में शामिल हुए थे। बाढ़ प्रखंड क्षेत्र के ग्रामीण इलाके में दो और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। साथ ही मोकामा में भी दो नए कोरोना संक्रमित हो गए।

एम्स में 3 दिन में लगातार 3 मौतें
एम्स में सोमवार को गोड्‌डा की रहने वाली महिला कंचन देवी की मौत हो गई। 25 साल की कंचन को पहले से टीबी की बीमारी थी। वह 24 जून को एम्स में भर्ती हुई थी। इनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं थी। एम्स में पहली बार लगातार तीन दिनों में तीन कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है। अब तक एम्स में कुल 11 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। इधर, एम्स में ही भर्ती पटना जिला के तीन संक्रमितों ने सोमवार को कोरोना से जंग जीत ली। सोमवार की जांच रिपोर्ट में 11 नए पॉजिटिव मिले। इनमें पांच पटना जिला के हैं।

एम्स का टेक्नीशियन कोरोना संक्रमित, दो दिनों के लिए एम्स में रोकी गई जांच

एम्स में कोरोना संक्रमण की जांच में लगे 26 साल के एक टेक्नीशियन कोरोना संक्रमित पाए गए। एम्स प्रशासन ने टेक्नीशियन के पॉजिटिव मिलने के बाद लैब बंद करने का आदेश दे दिया। कोरोना सैंपल की जांच अब आईजीआईएमएस में होगी। नोडल अधिकारी डॉ. संजीव कुमार ने यह जानकारी दी।

दूल्हे के संबंधी, किराना दुकानदार से लेकर सब्जीवाले भी हुए संक्रमित

पालीगंज में सोमवार को जो कोरोना रिपोर्ट आई है उनमें इसी गांव का रहने वाला एक लड़का भी संक्रमित है। यह लड़का अनिल का रिश्तेदार है और वह उसके अंतिम संस्कार में भी शामिल हुआ था। यही नहीं किराना दुकानदार, सब्जी विक्रेता, हलवाई के अलावा पंचायत समिति सदस्य के पति भी काेराेना से संक्रमित हाे गए। इनके बारे में बताया जाता है कि किराना दुकानदार और सब्जी विक्रेता वे ही हैं जिनके पास से सब्जी और किराना का सामान शादी में अनिल के घर गया था। हलवाई का एक स्टाफ संक्रमित है जो पालीगंज के बीबीपुर का रहनेवाला है और वह शादी के बाद भी वहां काम कर रहा था। 
संक्रमितों को भेजा गया बिहटा, कई इलाके सील 
पालीगंज के बीडीओ चिरंजीवी पांडेय ने बताया कि डीहपाली, मीठा कुआं, बाबा बोरिंग रोड के अलावा बाजार के कुछ इलाके को बैरिकेडिंग कर कुछ इलाकों को सील कर दिया गया है। उसके बाद लाउडस्पीकर के माध्यम से बिना काम के घर से बाहर नहीं निकलने की घोषणा कराई गई।

समिति सदस्य के पति के संपर्क में कई आए 
पालीगंज में इस सब बावजूद इलाके में धड़ल्ले से शादियां हो रही हैं। सोशल डिस्टेंस की कौन कहे, यहां किसी के मुंह पर मास्क तक नहीं होता है। पंचायत समिति सदस्य पति काफी लोगों के संपर्क में आए हैं। इनके चेना का पता लगाया जा रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना