शराबबंदी पर ललन सिंह का अजीबो-गरीब बयान:बोले- हत्या के खिलाफ भी कानून है, लेकिन लोग हत्या करते हैं, शराबबंदी प्रदेश में जारी रहेगी

पटना22 दिन पहले
मिलन समारोह में जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह।

जहरीली शराब से बिहार में हुई मौतों के बाद JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने शनिवार को पत्रकारों के सवाल पर अजीबो-गरीब बयान दिया है। उन्होंने कहा कि हत्या के लिए कानून में फांसी की सजा है, लेकिन लोग हत्या करते हैं और उनको सजा होती है, फांसी होती है। वैसे ही शराबबंदी कानून को तोड़ने वालों को सजा दी जा रही है।

उन्होंने आगे कहा कि बिहार में शराबबंदी कानून लागू रहेगा। गोपालगंज-बेतिया मामले की जांच हो रही है। लोगों को पकड़ा जाएगा और उन्हें सजा दी जाएगी। पहले भी गोपालगंज में इस तरह की घटना हुई थी, दोषी लोगों को पकड़ा गया था। उसमें सजा हुई थी। एक पत्रकार ने पूछा कि घर-घर में शराब की डिलीवरी हो रही है। CM हाउस में भी शराब की डिलीवरी होने की बात कही जा रही है। इस पर ललन सिंह ने कहा कि आप ही चले जाइए शराब लेकर पता चल जाएगा।

JDU में शामिल हुए RJD नेता

RJD के टिकट से कुम्हरार विधानसभा से चुनाव लड़े पूर्व उम्मीदवार डॉ. धर्मेंद्र कुमार अपने समर्थकों के साथ शनिवार को JDU में शामिल हुए। धर्मेंद्र पेशे से दांत के डॉक्टर हैं। इनको JDU में शामिल कराने के लिए खुद JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा, ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी, जल संसाधन मंत्री संजय झा, जहानाबाद के सांसद चन्द्रेश्वर चन्द्रवंशी सहित कई JDU के बड़े नेता मौजूद थे।

ललन सिंह ने लालू परिवार पर साधा निशाना

मिलन समारोह के मौके पर राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जमकर लालू यादव और उनके परिवार पर निशाना साधा। उन्होंने मंच से कहा कि डॉ. धर्मेंद्र को RJD में घुटन हो रही थी तभी वह JDU में आए हैं। यह शरीफ हैं, इसलिए शरीफ की पार्टी में आए है।

सिंह ने कहा कि तेजस्वी यादव जैसा नेता लोगों को मुसीबत में छोड़कर भाग जाते हैं। बाढ़ के वक्त में वह अपने क्षेत्र राघोपुर तक नहीं गए थे। लोग उन्हें ढूंढ रहे थे, लेकिन वह दिल्ली में ऐश मौज कर रहे थे। अब इनसे अपना क्षेत्र नहीं संभलता है तो उनसे बिहार क्या संभलेगा। ललन सिंह ने दोहराया कि अब बिहार के लोग कभी भी RJD को अपनी बागडोर नहीं देंगे।