तेजस्वी यादव की JDU को चिंता!:'तरुण' की जमीन को लेकर JDU ने फिर जताई चिंता, तेजस्वी का नाम ही तरुण

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और जदयू MLC नीरज कुमार। (फाइल) - Dainik Bhaskar
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और जदयू MLC नीरज कुमार। (फाइल)

बिहार भूमि दाखिल खारिज संशोधन विधेयक 2021 बिहार विधान परिषद से पास हो गया। इस पर उच्च सदन में चर्चा भी हुई। लेकिन, पूर्व मंत्री और जदयू के प्रवक्ता एमएलसी नीरज कुमार ने इसे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से जोड़ दिया। नीरज कुमार ने कहा कि ऐसे व्यक्ति भी बिहार में हैं कि जिनके पास दो नाम से जमीन है। कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के पास तरुण नाम से भी जमीन है। संपत्ति की जो जानकारी उन्होंने दी है उसमें इस तरह की जमीन का विवरण नहीं दिया है तो ऐसी जमीन के बारे में राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के मंत्री ने बताया दिया है कि ऐसी जमीन बेनामी हो जाएगी।

दान में मिली जमीन पर संकट
नीरज कुमार ने कहा कि तरुण नाम से तेजस्वी यादव के पास वाली जमीन अगर सही होती तो अब तक उसका दाखिल खारिज हो गया होता। लेकिन, दाखिल खारिज नहीं कराना, चुनाव लड़ना, चुनाव में जमीन के उस टुकड़े का खाता, खसरा, तौजी, जमाबंदी नंबर नहीं देना बेईमानी है। ऐसी कितनी संपत्ति जो दान में मिली है वह इस विधेयक के पास होने के बाद से खतरे में पड़ जाएगी।

RJD ने कहा- यह जदयू की संकुचित मानसिकता
RJD प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा कि जदयू के लोग लालू परिवार से बाहर से ही बाहर निकल ही नहीं सकते हैं। इस कारण बिहार हर स्तर पर पिछड़ा है और पिछड़ता ही जा रहा है। यह संकुचित मानसिकता की राजनीति को दर्शाता है।

खबरें और भी हैं...