मां ने निभाए दो फर्ज:पुत्र की आयु के लिए जिउतिया स्नान...पंचायत के विकास के लिए मतदान

हाजीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मां एक ऐसा शब्द है जिसकी ताकत के सामने प्रकृति और भगवान दोनों नतमस्तक हुए। भीषण गर्मी में अपने पुत्र की लंबी आयु के लिए जहां कौनहारा घाट पर स्नान कर जिउतिया व्रत की शुरूआत की वहीं लोकतंत्र के भी लंबी उम्र के लिए व्रत करते हुए भी मतदान में भाग लिया। आधी आबादी का वैदिक पर्व जिउतिया व लोकतंत्र का महापर्व मतदान के प्रति आस्था का यह नजारा भी अपने-आप में खास है। जिले में दूसरे चरण की पहली वोटिंग बुधवार को हाजीपुर सदर प्रखंड में हुई। ठीक जिउतिया महाव्रत के दिन मतदान होने से पिछले चौबीस घंटों से निर्जला उपवास कर रखी पुत्रवती महिलाओं के लिए भारी चुनौती थी। महिलाओं को यूं ही नारी शक्ति नहीं कहा जाता। उसकी बानगी है यह दोनों तस्वीर। एक तस्वीर वोटिंग के लिए महिलाओं की लगी लंबी लाईन की है। यह तस्वीर हाजीपुर सदर के बलवा कुआरी मिडिल स्कूल मतदान केंद्र की है। निर्जला उपवास के बावजूद महिलाएं मुस्तैदी से वोटिंग के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रही हैं। वहीं दूसरा दृश्य हाजीपुर सीढी घाट की है, जहां व्रत-उपवास के दौरान स्नान ध्यान करतीं दिखीं।

खबरें और भी हैं...