कोरोनावायरस / पीएमसीएच का 300 करोड़ का बजट लेकिन जरूरत के सामान उपलब्ध नहीं,  चंदे के पैसे से जूनियर डॉक्टर खरीदेंगे मास्क और पीपीई किट

फाइल फोटो. फाइल फोटो.
X
फाइल फोटो.फाइल फोटो.

  • पीएमसीएच के कुछ इंटर्न डॉक्टर और राजधानी के कुछ युवा क्राउड फंडिंग से पैसा जुटा कर हिफाजत का सामान खरीदेंगे
  • अगर आप भी मदद करना चाहते हैं तो मिलाप (milap.org) की वेबसाइट पर जाकर सपोर्ट पीएमसीएच टाइप करने पर डिटेल आ जाएगी

दैनिक भास्कर

Mar 27, 2020, 02:51 AM IST

पटना. डॉक्टरों का आरोप है कि पीएमसीएच, एनएमसीएच व आईजीआईएमएस में पर्याप्त मात्रा में हैंड सेनेटाइजर, फेस मास्क, पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट) नहीं है। एनएमसीएच के जूनियर डॉक्टरों ने विरोध भी दर्ज कराया है। आईजीआईएमएस से भी ऐसी बात आ रही है। पीएमसीएच में तो इस पर बवाल हो चुका है। ऐसे में पीएमसीएच के कुछ इंटर्न डॉक्टर और राजधानी के कुछ युवा क्राउड फंडिंग से पैसा जुटा कर हिफाजत का सामान खरीदेंगे।

यह हालात तब हैं जब पीएमसीएच का वार्षिक बजट 300 करोड़ है। जरूरत पड़ने पर छोटे-छोटे सामान अस्पताल की ओर से भी मंगाए जाते हैं। अधीक्षक डॉ. विमल कारक का कहना है कि जरूरत पड़ने पर हम इसका इस्तेमाल करते हैं। वहीं, पीएमसीएच के जूनियर डॉक्टरों का अारोप है कि उन्हें पीपीई, मास्क और ग्लब्स नहीं दिया जा रहा है। एक जूनियर डॉक्टर ने कहा कि पूरा अस्पताल एक्सपोजर में है। हमें कम से कम हैंड सेनेटाइजर और मास्क की जरूरत है। हमारे इंटर्न डॉक्टर जो कोरोना मरीज को देखेंगे उन्हें पूरी किट चाहिए। ऐसे में हम क्राउड फंडिंग कर पीपीई खरीदेंगे। वहीं, अधीक्षक डॉ. विमल कारक का कहना है कि पीपीई किट, मास्क और ग्लव्स आ गया है। जिनकी जहां ड्यूटी लगेगी उसके अनुसार उन्हें पीपीई किट, ग्लब्स और मास्क उपलब्ध कराया जाएगा।


850 लोगों ने डोनेट किए 2.60 लाख रुपए
अब तक 850 लोगों ने 2.60 लाख रुपए डोनेट किया है। इसमें से 50 हजार रुपए का हैंड सेनेटाइजर और फ्लोर क्लीनर खरीदा गया। मिलाप के जरिए यह कैंपेन चला रहे युवाओं ने कहा कि पांच लाख रुपए जुटाने का लक्ष्य है। पांच सदस्यीय टीम की सदस्य पीएमसीएच की छात्रा सुदीशी कहती हैं-हमारा मुख्य ध्यान अब पीपीई खरीदने पर है। पीएमसीएच के छात्र अंकित राज कहते हैं कि हम कम से दो सौ पीपीई आॅर्डर करना चाहते हैं जिसके लिए फंड पूरा नहीं हो रहा है। टीम के अन्य सदस्य सौरभ राज, चंद्रभूषण और शादान कैंपेन को लोगों तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। अगर आप भी मदद करना चाहते हैं तो मिलाप (milap.org) की वेबसाइट पर जाकर सपोर्ट पीएमसीएच टाइप करने पर डिटेल आ जाएगी।


आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना