पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वारदात:जमींदार घराने के कुंदन शुक्ला ने आपसी विवाद में की आत्महत्या

हाजीपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जेब से सुसाइड नोट बरामद, पुलिस ने छोटे भाई को हिरासत में लिया

तत्कालीन कन्हौली स्टेट जमींदार घराना से ताल्लुक रखने वाले हाजीपुर नगरपालिका के भूतपूर्व सभापति विजयेंद्र शुक्ला उर्फ विजय शुक्ला के मंझले पुत्र कुंदन शुक्ला ने फांसी लगा आत्महत्या कर ली। जिले के चर्चित व प्रतिष्ठित घराना से ताल्लुक रखने वाले कुंदन शुक्ला की अस्वभाविक मौत की खबर से पूरे शहर के लोग सकते में हैं। घटना मंगलवार की दोपहर बाद ढाई से तीन बजे के करीब बताई जा रही है।
फंदे से लटका पाया गया शव
हाजीपुर गुदरी रोड में राजेंद्र चौक से सटे चर्चित शुक्ला परिवार का शुक्ला कॉम्पलेक्स है। गुजरे जमाने में सूबे की सियासत में गहरी पैठ रखने वाले दिग्गज कांग्रेसी नेता व लम्बे समय तक हाजीपुर नगरपालिका के चेयरमैन रहे स्व. विजयेंद्र शुक्ला उर्फ विजय बाबा का मार्केटिंग कॉम्पलेक्स के पीछे आवासीय परिसर है। आवास के सामने पुराना बैठका बना हुआ है। पीछे छतदार मकान है जिसमें बड़े भाई रंजन शुक्ला हाजीपुर आते हैं तो रहते हैं। पटना में शिफ्ट बड़े भाई रंजन शुक्ला व मृतक से छोटे रंजीत शुक्ला उर्फ चंदन शुक्ला भी यहीं हाजीपुर ही थे। बताया गया कि पुराने बने बैठका का इस्तेमाल मृतक कुंदन शुक्ला ही करते थे।

सुसाइड नोट में छोटे भाई व उनकी पत्नी द्वारा सताए जाने व पारिवारिक प्रतिष्ठा को धूमिल होने का कारण दर्शाया गया

मिलने आए व्यक्ति ने मचाया शोर
स्वभाव से काफी मिलनसार मृतक कुंदन शुक्ला से मिलने-जुलने वाले दिन भर यहीं बैठका में आकर मिलते थे। मंगलवार की दोपहर बाद करीब ढाई बजे उनसे मिलने कोई परिचित पहुंचा था। बैठका की कोठरी का दरवाजा भिड़ा था। जैसे ही उसने दरवाजा खोला अंदर का दृश्य देखकर चीख पड़ा। कथित रूप से कुंदन फंदे से लटके थे। शोर मचाने पर मार्केट के दुकानदार व उनकी पत्नी नीलू शुक्ला वहां पहुंची। वहां कोहराम मच गया। बताया गया कि लोग फंदे से उतार कर उन्हें सदर अस्पताल लेकर गए, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

देवर व देवरानी पर पहले से कई मामले दर्ज
बताया जाता है कि कुंदन चार भाई हैं। मौत के लिए जिम्मेवार ठहराए गए आरोपी रंजीत उर्फ चंदन शुक्ला के साथ कुंदन व उनकी पत्नी को नहीं निभ रही थी। नीलू शुक्ला का आरोप है कि उनकी देवर-देवरानी उन्हें हाजीपुर से भगाने पर आमदा थे ताकि घर व यहां के पैतृक संपत्ति पर कब्जा जमा सकें। उनका आरोप है कि पति-पत्नी के साथ देवर-देवरानी कई बार मारपीट कर चुके हैं। घर में बंद कर घर से निकलना बंद कर चुके हैं। उनके पति पारिवारिक प्रतिष्ठा का ख्याल करते हुए सब कुछ सहते आ रहे थे। उन्होंने अन्याय के खिलाफ कदम उठाया। नगर थाना में कांड संख्या 47/16, कांड संख्या 10/2020, 345/2020, हाजीपुर महिला थाना में 2019 में मामला दर्ज करा चुकी हैं। लॉकडाउन के दौरान पति-पत्नी ने मिलकर उन दोनों को घर में बंद कर पानी का कनेक्शन काट दिया था। विरोध करने पर देवर चंदन ने दुपट्टा गले में कस कर उनकी जान लेने की कोशिश की थी। मार्केट के दुकानदार बीचबचाव कर जान बचाई थी।

मृतक के पास से मिला सुसाइड नोट
पुलिस ने सुसाइड नोट बरामद होने की पुष्टि की। इसमें कुंदन ने आत्महत्या करने की विवशता उत्पन्न करने के लिए छोटे भाई चंदन शुक्ला व उनकी पत्नी को जिम्मेवार ठहराया है। कथित रूप से उन्होंने लिखा है कि उन दोनों के प्रताड़ना, अपमानजनक व्यवहार से न केवल वे व्यथित थे बल्कि पारिवारिक प्रतिष्ठा बर्बाद होते देख वे आत्महत्या कर रहे हैं।

पुलिस पर नाइंसाफी का लगाया आरोप
पति की मौत के बाद पत्नी नीलू शुक्ला ने कहा चार से पांच बार अन्याय की प्रताड़ना से निजात दिलाने के लिए पुलिस में गुहार लगाई पर उन्हें इंसाफ नहीं मिला। बताया कि पति का कथित हत्यारा उनके देवर का साला है, जिसका नाम विनोद पांडेय है वह पुलिस अफसर है। उसकी पैरवी पर यहां की पुलिस ने सिर्फ एफआईआर करने की औपचारिकता भर निभाई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज का दिन मित्रों तथा परिवार के साथ मौज मस्ती में व्यतीत होगा। साथ ही लाभदायक संपर्क भी स्थापित होंगे। घर के नवीनीकरण संबंधी योजनाएं भी बनेंगी। आप पूरे मनोयोग द्वारा घर के सभी सदस्यों की जरूर...

    और पढ़ें