• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Many Instructions Given, 118 Km Of Pipe Laid In 150, People Of Rajgir Gaya And Bodhgaya Will Drink Gangajal From June Next Year

मुख्यमंत्री ने गंगाजल उद्वह योजना की समीक्षा की:150 में 118 किमी पाइप बिछी, राजगीर-गया और बोधगया के लोग अगले साल जून से पीएंगे गंगाजल; दिए कई निर्देश

पटना15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

गंगाजल उद्वह योजना अगले साल मार्च महीने में पूरी होगी। जून से लोगों की घरों में पीने के लिए गंगा का पानी पहुंचने लगेगा। दो चरणों की इस योजना के तहत राजगीर, गया, बोधगया व नवादा के लोगों तक गंगाजल पहुंचना है। बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा इस योजना की समीक्षा के दौरान इसकी अब तक की प्रगति सामने आई।

मुख्यमंत्री को बताया गया कि 150 किलोमीटर पाइपलाइन में से अब तक 118 किलोमीटर पाइपलाइन बिछ चुकी है। मुख्यमंत्री ने अफसरों से कहा-’तय समय में यह योजना पूरी हो, इसके लिए तेजी से काम किया जाए।’ यह योजना जल-जीवन-हरियाली अभियान के अंतर्गत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना के तहत राजगीर, गया, बोधगया एवं नवादा के सभी लोगों को गंगा का पानी शुद्ध पेयजल के रूप में उपलब्ध कराया जाएगा। स्पॉट पर जाकर एक-एक चीज का आकलन हो। जल संसाधन, पीएचईडी, नगर विकास एवं आवास विभाग आपस में समन्वय बनाकर इस पर काम करें।

नवादा में भी जलापूर्ति योजना का काम तेजी से शुरु हो। राजगीर में विकास के कई काम किए गए हैं। वहां आबादी तेजी से बढ़ रही है। बढ़ती आबादी को ध्यान में रखते हुए जलापूर्ति योजना बनाकर काम किया जाए। भू-जल स्तर को मेनटेन रखना है, इसके लिए लोगों को प्रेरित करते रहें।

जल संसाधन विभाग के सचिव संजीव हंस ने योजना के बारे में विस्तार से बताया। कहा कि मूल योजना का काम मार्च 2022 तक पूरा हो जाएगा। जल वितरण का काम जून 2022 तक शुरू करने का लक्ष्य है।

नवादा में फेज-2 में आपूर्ति

  • जल संसाधन, पीएचईडी, नगर विकास व आवास विभाग समन्वय बनाकर काम करे
  • बढ़ती आबादी को ध्यान में रखते हुए जलापूर्ति की योजना बनाकर काम हो
खबरें और भी हैं...