सरकारी बैठक में जीजा को लेकर पहुंचे मंत्री तेजप्रताप:मीटिंग में बहन मीसा भारती के पति शैलेश को साथ बैठाया, अफसरों से बात करते नजर आए

पटना2 महीने पहले

बिहार में महागठबंधन की सरकार बनते ही विवादों में घिर रही है। अब नया विवाद लालू यादव के बड़े दामाद शैलेश कुमार को लेकर शुरू हो गया है। वह अपने बड़े साले और वन पर्यावरण मंत्री तेज प्रताप यादव के साथ सरकारी मीटिंग में नजर आए। इसके पहले कानून मंत्री के खिलाफ केस, फिर शिक्षा मंत्री के बयान पर बवाल मच चुका है।

पोल में हिस्सा लेकर खबर पर अपनी राय दे सकते हैं।

दरअसल, गुरुवार को मंत्री तेज प्रताप यादव बिहार प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के ऑफिस पहुंचे थे। उन्होंने अधिकारियों के साथ मीटिंग की। इसमें शैलेश कुमार भी बैठे नजर आए। वे कुछ अफसरों से बात भी करते दिखे। इस बैठक का वीडियो और तस्वीर बाहर आते ही विवाद बढ़ गया।

बिहार प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की बैठक पटना के परिवेश भवन में हुई। इसमें मंत्री समेत प्रधान सचिव अरविंद चौधरी, प्रदूषण बोर्ड के अध्यक्ष सुभाष घोष सहित विभाग के अफसर मौजूद थे।
बिहार प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की बैठक पटना के परिवेश भवन में हुई। इसमें मंत्री समेत प्रधान सचिव अरविंद चौधरी, प्रदूषण बोर्ड के अध्यक्ष सुभाष घोष सहित विभाग के अफसर मौजूद थे।

सवाल उठ रहा है कि क्या निजी सचिव बनाया है
विपक्ष कह रहा है कि बोर्ड की मीटिंग में लालू प्रसाद के बड़े दामाद कैसे बैठे थे? यह तो मंत्री ही बता सकते हैं? अगर तेज प्रताप यादव ने अपने बहनोई शैलेश कुमार को अपना निजी सचिव रख लिया है तो वह बैठक में शामिल हो सकते हैं, लेकिन यह बात अब तक सामने नहीं आई है।

बीजेपी ने कहा- जीजाजी के आशीर्वाद से बेहतर करेंगे तेज प्रताप
भाजपा इस मामले में आरजेडी पर हमलावर हो गई है। बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा है कि तेज प्रताप यादव अपने बहनोई के साथ मिलकर वन एवं पर्यावरण विभाग चलाएंगे। यह कोई हल्की बात नहीं है। उन्होंने तंज कसते हुए यह कहा कि सांसद मीसा भारती के पति शैलेश जी सभी मंत्रियों से काफी जानकार हैं, ज्ञानी हैं, टैलेंटेड हैं। शैलेश कुमार का आशीर्वाद बना रहा तो तेज प्रताप विभाग में बेहतर करेंगे।

पत्नी मीसा भारती के साथ शैलेश कुमार।
पत्नी मीसा भारती के साथ शैलेश कुमार।

इंजीनियर रह चुके हैं शैलेश, शादी के बाद छोड़ दी थी नौकरी
शैलेश कुमार पटना के बिहटा के रहने वाले हैं। मीसा भारती से उनकी शादी 1999 में हुई थी। शैलेश के पिता रामबाबू पथिक एक बैंक कर्मी थे। शैलेश इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुके हैं। वह इंफोसिस में काम कर चुके हैं। मीसा भारती के साथ शादी के बाद नौकरी छोड़ दी थी। आरजेडी के लिए कैंपेन भी कर चुके हैं और पार्टी का सोशल मीडिया पेज भी देखते हैं।

RJD नेताओं ने चुप्पी साधी

आरजेडी के नेता और प्रवक्ता शैलेश कुमार पर कुछ भी बोलने बच रहे हैं। दैनिक भास्कर ने RJD प्रवक्ता और नेताओं से इस मसले बात करनी चाही तो उन्होंने बोलने से मना कर दिया। अब निगाह डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव और सीएम नीतीश कुमार पर है कि आखिर इस पर वे क्या कहते हैं।

जीतनराम मांझी की भी हुई थी फजीहत
इससे पहले भी जीतन राम मांझी की काफी फजीहत हो चुकी है। जीतन राम मांझी जब CM बने तब अपने दामाद को पीए रखा था। जब विवाद बढ़ने लगा था तो मांझी ने आनन-फानन में अपने दामाद को हटा दिया था।

खबरें और भी हैं...