राजगीर जू सफारी तैयार, इसी माह होगी शुरुआत:176 करोड़ की लागत से 191 हेक्टेयर में बना मॉडल जू, मॉडल अस्पताल का भी हुआ निर्माण

पटना7 महीने पहलेलेखक: राजू कुमार
  • कॉपी लिंक
यहां खुले में विचरण करते जंगली जानवरों के बीच पर्यटक सुरक्षित तरीके से वाहनों से भ्रमण कर सकेंगे। - Dainik Bhaskar
यहां खुले में विचरण करते जंगली जानवरों के बीच पर्यटक सुरक्षित तरीके से वाहनों से भ्रमण कर सकेंगे।

राजगीर जू सफारी बनकर तैयार हो गया है। सभी बाड़ों में जानवरों काे छोड़ दिया गया है। शेर, बाघ, भालू, हिरण और तेंदुआ मिलाकर करीब 260 जानवर हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इसी माह इसका उद्घाटन करेंगे। इसको लेकर पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग और जू सफारी प्रशासन की तरफ से जोर-शोर से तैयारी चल रही है। 191 हेक्टेयर जमीन पर लगभग 176 करोड़ की लागत से जू सफारी का निर्माण किया गया है।

यहां खुले में विचरण करते जंगली जानवरों के बीच पर्यटक सुरक्षित तरीके से वाहनों से भ्रमण कर सकेंगे। वन विभाग के अधिकारी के मुताबिक सेंट्रल जू अथॉरिटी ऑफ इंडिया की तरफ से हरी झंडी मिल चुकी है। यहां जानवरों के इलाज के लिए दक्षिण बिहार के सबसे बड़े मॉडल अस्पताल का निर्माण किया गया है। एक्सरे और अल्ट्रासाउंड की भी व्यवस्था की गई है।

मॉडल जू बनेगा
विभाग के अधिकारी ने बताया कि जू सफारी में वन्य प्राणियों को प्राकृतिक वातावरण मिलता है। खुले में विचरण करते हैं। राजगीर जू सफारी को जल्द ही पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा। जू सफारी सेंट्रल जू अथॉरिटी की निगरानी में काम करता है। सीजेड की टीम ने कहा कि इसे मॉडल जू के रूप में विकसित किया गया है। यहां लोग सुरक्षित तरीके से भ्रमण कर सकेंगे।

पटना का स्पेशल पैकेज
पटना के पर्यटकों के जू सफारी आने-जाने के लिए स्पेशल टूर पैकेज तैयार किया जाएगा। जू सफारी के उद‌्घाटन के 10-15 दिन के अंदर टूर पैकेज तैयार कर लिया जाएगा। इससे पहले दोनों विभाग पटना से आने-जाने वाले पर्यटकों की संख्या का सर्वे करेंगे। लोगों को सस्ती दर पर सैर कराने के लिए टूर पैकेज तैयार किया जाएगा।