छठ के बाद शराबबंदी की होगी समीक्षा:CM नीतीश बोले- जहरीली शराब पीने वाले खुद मौत के लिए जिम्मेदार, प्रदेश में करेंगे कैंपेन

पटना23 दिन पहले

गोपालगंज और बेतिया में जहरीली शराब से तीन दिन में 33 लोगों की मौत के बाद शुक्रवार को CM नीतीश कुमार ने पहली बार बयान दिया। उन्होंने पटना में कहा कि जहरीली शराब पीने वाले मौत के लिए खुद जिम्मेदार हैं। गलत काम कीजिएगा तो यह नौबत आएगी ही। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि सरकार इसको लेकर पूरी तरह से गंभीर है। छठ पर्व के बाद समीक्षा बैठक की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी भी लोगों की जागरूकता के लिए एक बड़ा कैंपेन चलाने की जरूरत है, ताकि लोग यह समझ सकें कि शराब गंदी चीज है। इसका कोई फायदा नहीं है, इसका नुकसान ही नुकसान है। नीतीश कुमार ने बताया कि छठ पर्व के बाद विस्तृत समीक्षा बैठक करेंगे और राज्य में एक बड़े अभियान की रूपरेखा तैयार करेंगे।

लोगों की गिरफ्तारी भी हो रही

CM ने कहा कि जहरीली शराब को लेकर क्या स्थिति है? गलत कर्म कीजिएगा तो यह नौबत आएगी ही। अधिकारियों से हमारी बातचीत होती रहती है। पर्व के बाद इसकी विस्तृत समीक्षा करेंगे। प्रतिदिन चारों तरफ लोग पकड़े जा रहे हैं। छापेमारी हो रही है। लोग गिरफ्तार किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हम बार-बार कहते रहते हैं, आज नहीं, जब भी हुआ (मौत), जब तुम पियोगे गड़बड़ चीज, तो इसी तरह से न होगा। लोगों को एक बार फिर से बताना पड़ेगा कि यह बहुत गंदी चीज है। शराबबंदी लागू है। इस तरह से कुछ करिएगा तो नतीजा बुरा ही होगा। यह गंदे तरीके से लोग शराब बना कर काम कर रहे हैं इसमें और कार्रवाई हो रही है।

खबरें और भी हैं...