पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तैयारी:पुलिस और गृह विभाग से संबंधित कार्यों की मॉनिटरिंग के लिए बनाए गए नोडल ऑफिसर

पटना5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुख्यमंत्री के निर्देश पर नई व्यवस्था लागू, हर शुक्रवार को होगी समीक्षा

पुलिस और गृह विभाग से संबंधित कार्यों की मॉनिटरिंग के लिए राज्य सरकार ने नोडल अफसरों को नामित कर दिया है। गृह विभाग के विशेष सचिव विकास वैभव और संयुक्त सचिव अनिमेश पांडेय को नोडल अफसर बनाया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर यह नई व्यवस्था लागू की गई है। इसके तहत गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद की अध्यक्षता में प्रत्येक शुक्रवार को विभाग से संबंधित विषयों पर हो रहे कार्यों और योजनाओं की समीक्षा की जाएगी। कार्यों के व्यवस्थित क्रियान्वयन को ध्यान में रखकर नोडल पदाधिकारियों को नामित किया गया है।

किस नोडल पदाधिकारी के जिम्मे कौन सा काम होगा उन्हें यह भी आवंटित कर दिया गया है। गृह विभाग के विशेष सचिव विकास वैभव पुलिस पेट्रोलिंग, पैदल गश्ती, थानों में महिला एसएचओ का पदस्थापन, महिला पुलिस व कांस्टेबल का पदस्थापन, पुलिस मुख्यालय के लिए रिवाल्विंग फंड की व्यवस्था, पुलिस थानों में लैंडलाइन फोन की व्यवस्था एवं फोन बिलों के सेंट्रलाइज्ड भुगतान की व्यवस्था, राष्ट्रीय मानक के अनुसार पुलिस कर्मियों की आवश्यकता एवं पद सृजन, क्षेत्रीय विधि विज्ञान प्रयोगशाला के लिए पद सृजन, भवन के लिए जमीन की उपलब्धता एवं निर्माण, सीआईडी, मद्य निषेध व स्पेशल ब्रांच की रिक्तियों और उसे भरने की कार्रवाई से

संबंधित मामलों की मॉनिटरिंग करेंगे। वहीं संयुक्त सचिव अनिमेश पांडेय कब्रिस्तान घेराबंदी, भूमि विवाद, पुलिस थाना व ओपी के लिए भूमि की उपलब्धता, योजना की स्वीकृति एवं निर्माण, अभियोजन स्वीकृति, स्पीडी ट्रायल एवं डीएलएमसी की बैठक, जिलों में स्पेशल ब्रांच एवं अन्य संबंधित एजेंसियों के लिए संयुक्त भवन का निर्माण, सांप्रदायिक मामलों में अभियोजन की स्वीकृति, थाना भवनों में महिला शौचालय एवं आगंतुक कक्ष का निर्माण तथा पैरेंट एवं चाइल्ड अकाउंट से संबंधित मामलों की मॉनिटरिंग करेंगे।

खबरें और भी हैं...