• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Not A Single Corona Patient Found In The State After One And A Half Years; Earlier On April 5, 2020, The Number Of Corona Patients In All The Districts Was Zero.

बिहार के लिए राहत की खबर:शनिवार को डेढ़ साल बाद नहीं मिला एक भी कोरोना मरीज, इससे पहले 5 अप्रैल 2020 को शून्य थी संख्या

पटना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
काेराेना टीका से वंचित लोगों का कल से घर-घर हाेगा सर्वे। - Dainik Bhaskar
काेराेना टीका से वंचित लोगों का कल से घर-घर हाेगा सर्वे।

बिहार में डेढ़ साल के बाद कोरोना का एक भी केस शनिवार को नहीं मिला है। बीते 24 घंटे में की गई सैंपल जांच में कोई भी पॉजिटिव मरीज नहीं मिला है। कोरोना काल में ऐसा दूसरी बार है जब राज्य के किसी भी जिले में एक भी केस नहीं मिला है। इससे पहले 5 अप्रैल 2020 को और 28 सितंबर 2021 को बिहार के सभी जिलों में कोरोना मरीजों की संख्या शून्य थी।

हालांकि 28 सितंबर को 1 मरीज पॉजिटिव पाया गया था जो असम से बिहार आया था। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार बीते 24 घंटे में 76314 सैंपल की जांच की गई है। 2 मरीज कोरोना से ठीक हुए हैं। राज्य की रिकवरी दर 98.66 प्रतिशत है। राज्य में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 43 है। राज्य में अबतक 726021 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 716316 लोग ठीक हुए हैं। पिछले 24 घंटे में किसी की मौत नहीं हुई है। राज्य में कोरोना से मरनेवाले लोगों की संख्या 9661 है।

काेराेना टीका से वंचित लोगों का कल से घर-घर हाेगा सर्वे
कोरोना टीका लगवाने से वंचित लोगों का सर्वे 18 अक्टूबर से राज्यभर में होगा। वोटरलिस्ट के आधार पर 18 से 20 अक्टूबर तक लोगों को चिह्नित किया जाएगा। संबंधित क्षेत्र की आशा फेसिलिटेटर और बीसीएम की देखरेख में सर्वे किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग की योजना है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस सर्वे के जरिए चिह्नित किया जाए ताकि उनका टीकाकरण हो सके।

22 अक्टूबर को टीकाकरण का विशेष अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में छूटे हुए सभी लोगों को टीका लगाया जाएगा। राज्य में जिन लोगों ने अबतक कोरोना का टीका नहीं लिया है, उनका सर्वे किया जाएगा। साथ ही जिन लोगों ने सिर्फ एक ही डोज ली है उनका भी सर्वे किया जाएगा।

आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर ऐसे लोगों का सर्वे करेंगी और इससे संबंधित रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को सौंपेगी। सर्वे के बाद प्रखंड द्वारा आशा से प्राप्त लोगों की सूची के अनुसार टीकाकरण सेंटर, कर्मी व अन्य सामग्री जिलों को उपलब्ध कराई जाएगी।

91693 टीके लगाए गए
बिहार में शनिवार को 91693 टीके की डोज लगाई गई है। राज्यभर में 2924 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए थे। सबसे अधिक लगभग 19 हजार टीके पटना में लगाए गए हैं। सारण दूसरे नंबर पर है वहां 8364 डोज लगाई गई है। कई जिलों में काफी कम टीकाकरण हुआ है।

शेखपुरा में 180, अरवल में 269, शिवहर में 281, लखीसराय में 303, कैमूर में 382 डोज ही लगी है। वैक्सीनेशन अब सोमवार से ही रफ्तार पकड़ेगा। राज्य में अबतक कुल 6,15,41,621 डोज टीके की लगाई जा चुकी है। इनमें पहली डोज 4,72,75,164 तथा दोनों डोज 1,42,66,457 लगी है।

खबरें और भी हैं...