पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Pandemic Has Doubled Women's Mental Stress, Family And Government Should Take Responsibility For Women's Health

एडवांटेज केयर:महामारी ने महिलाओं के मानसिक तनाव को दोगुना किया है, परिवार और सरकार औरतों के स्वास्थ्य की जिम्मेदारी लें

पटना9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्चुअल डायलॉग सीरीज में महिला और स्वास्थ्य पर चर्चा का आयोजन

सेंटर फॉर सोशल रिसर्च की निदेशक और वीमेन पावर कवेक्ट की अध्यक्ष डॉ. रंजना कुमारी ने कहा कि परिवार और सरकार महिलाओं के स्वास्थ्य की जिम्मेवारी लें। वो मानसिक परेशानी में हैं। उनका मानसिक तनाव दोगुना हो गया है। डॉ. रंजना एडवांटेज केयर के वर्चुअल डायलॉग सीरीज के तीसरे एपिसोड में रविवार को बोल रहीं थी। महिला और स्वास्थ्य विषय पर आयोजित इस चर्चा में उन्होंने कहा कि उन्हें आम दिनों की अपेक्षा

महिलाओं के तीन गुना फोन आ रहे हैं। राष्ट्रीय महिला आयोद वे भी माना है कि सिर्फ तीन महीने में महिला हिंसा की घटना लगभग दोगुनी हो गई है। उन्होंने कहा कि महिलाओं का पुरुषों की अपेक्षा 10 प्रतिशत कम कोरोना का टीकाकरण हुआ है। ऐसे में जब पुरुष टीका लगवाने आएं तो स्वास्थ्यकर्मी उन्हें घर की महिलाओं को भी टीकाकरण के लिए लाने के लिए कहें।

महिलाओं का पुरुषों की अपेक्षा 10% कम कोरोना का टीकाकारण हुआ

गूंज संस्था की सह संस्थापक मीनाक्षी गुप्ता ने कहा कि विकास के इस दौड़ में शहर आगे बढ़े हैं, लेकिन गांव पीछे रह गए हैं। इस तरह की बड़ी आबादी पीछे रह गई है इसपर ध्यान देने की जरूरत है। एक महिला को उसका रोजगार दे दीजिए, वो अपना निर्णय खुद ले लेंगी। वो खुद अपनी च्वाइस तय कर लेंगी। इस महामारी ने महिलाओं के परेशानी को उभार दिया है।

खबरें और भी हैं...