• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Patna News; Corona Guidelines Violated By People During Durga Puja Celebration In Market, Police Remain Mute

पटना में यह कैसी चौकसी, पंडाल से बाजार तक भीड़:कागजी आदेश पर प्रशासन की तैयारी, पूजा पंडाल से लेकर बाजार में भीड़; पुलिस की चौकसी के बाद भी टूट रही गाइडलाइन

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पटना के हर बड़े बाजार में भीड़ कोरोना का खतरा बढ़ाने वाली है। - Dainik Bhaskar
पटना के हर बड़े बाजार में भीड़ कोरोना का खतरा बढ़ाने वाली है।

दुर्गा पूजा को लेकर बनाई गई गाइडलाइन का पटना में पालन नहीं हो रहा है। दुर्गा पूजा के दौरान पंडाल से लेकर बाजारों की भीड़ प्रशासन के दावों की पोल खोल रही है। कागजों पर आदेश जारी कर अफसर भी शांत बैठ गए हैं। पुलिस और प्रशासनिक अफसरों की चौकसी के बाद भी कोरोना को लेकर कोई सख्ती नहीं है। पूजा पंडाल से लेकर बाजार में बाजार में कहीं भी कोरोना की गाइडलाइन का पालन नहीं हो रहा है।

भीड़ कंट्रोल करने के लिए बने एक सेंटर पर कुछ इस तरह काम करते दिखे पुलिसकर्मी।
भीड़ कंट्रोल करने के लिए बने एक सेंटर पर कुछ इस तरह काम करते दिखे पुलिसकर्मी।

पूजा पंडाल पर बिना मास्क वाली भीड़

पूजा पंडालों को इसी शर्त पर अनुमति दी गई थी कि वह कोरोना की सभी गाइडलाइन का पालन करते हुए पूजा कराएंगे। मास्क और सोशल डिस्टेंस को लेकर कड़ा निर्देश था, गाइडलाइन का पालन कराने को लेकर सभी पूजा पंडालों पर पुलिस की ड्यूटी लगाई गई है। इस चौकसी के बाद भी पंडालों पर कोरोना की हर गाइडलाइन टूट रही है। आयोजकों से लेकर पुलिस प्रशासन तक गंभीर नहीं है। न तो इतना स्पेस बनाया गया है, जिससे भीड़ को नियंत्रित किया जाए और न ही मास्क को लेकर कोई सख्ती देखी जा रही है।

बाजारों में कोरोना की खुली छूट

पटना के हर बड़े बाजार में भीड़ है। यह भी कोरोना का खतरा बढ़ाने वाली है। पटना के सबसे बड़े बाजार बाजार खेतान मार्केट, बारी पथ और चूडी मार्केट में तो भीड़ डराने वाली है। यहां हर कोई कोरोना के खतरे से अनजान दिख रहा है। खेतान मार्केट में तो पूरी भीड़ लग जा रही है। यहां पुलिस या प्रशासनिक तैयारी का कोई असर नहीं दिख रहा है। हर दिन शाम को खेतान मार्केट भर जा रहा है, जिससे कोरोना का बड़ा खतरा है। गांधी मैदान और पीरबहोर थाना की तरफ से केवल तैयारी का दावा किया गया है, लेकिन भीड़ लगाने वाले दुकानदाराें पर कोई सख्ती नहीं है।

प्रशासन ने किया था बड़ा दावा

पटना में जिला प्रशासन की तरफ से दावा किया गया था कि कोरोना को देखते हुए मनमानी करने वाले दुकानदारों और पूजा पंडालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, लेकिन किसी भी दुकान पर कभी पुलिस जांच के लिए नहीं पहुंची। जिला प्रशासन ने कोरोना के खतरे को देखते हुए कंट्रोल रूम भी एक्टिव किया था लेकिन उसका भी कोई असर नहीं दिख रहा है। कंट्रोल रुम की तरफ से भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है जबकि हर दिन बाजार में भीड़ डराने वाली लग रही है।

खबरें और भी हैं...