पटना के विश्वेश्वरैया भवन में आग:नुकसान का जायजा लेने पहुंचे CM; कहा- हमने किसी सरकारी भवन में इतनी देर आग लगते नहीं देखा

पटना3 महीने पहले

पटना के सबसे पॉश इलाके बेली रोड पर हड़ताली मोड़ के पास विश्वेश्वरैया भवन में सुबह भीषण आग लग गई। आग बिल्डिंग के तीसरी-चौथी मंजिल पर लगी। धीरे-धीरे आग ने 6वीं मंजिल को भी अपनी जद में ले लिया। दमकल की गाड़ियां आग पर काबू पाने की कोशिश में लगी हुई है। 6वीं मंजिल की आग बुझाने के लिए एयरपोर्ट से हाइड्रोलिक मशीन मंगवाई गई है। आग और नुकसान का जायजा लेने सीएम नीतीश कुमार भी विश्वेश्वरैया भवन पहुंचे। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों पूरी जानकारी ली।

मौके पर पहुंचे सीएम ने कहा कि इससे पहले कभी किसी सरकारी भवन में इतनी देर तक आग लगी हुई नहीं देखी। जब मीडिया से मुखातिब हुए तो उन्होंने कहा कि हम सुबह से ही इस घटना की पूरी जानकारी ले रहे थे। फिर 3 बजे हमने सुना की आग और बढ़ गई है। तो हमने अधिकारियों से बात की।

इस दौरान सीएम ने विश्वेश्वरैया भवन के आगे और पीछे के इलाके में जाकर मुआयना किया।
इस दौरान सीएम ने विश्वेश्वरैया भवन के आगे और पीछे के इलाके में जाकर मुआयना किया।

उन्होंने बताया कि सब तरह से कोशिश की जा रही है। लेकिन इतनी देर तक इस तरह की अग्निकांड का अपने में एक अलग घटना है। मैंने इस घटना से पहले कभी किसी सरकारी भवन में इतनी देर तक आग लगते हुए न देखा और न सुना है। तो मुझे लगा कि जाकर देखना चाहिए।

आग लगने का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है, लेकिन माना जा रहा है कि यह शॉर्ट सर्किट की वजह से हुआ है। रेस्क्यू के लिए NDRF की मदद लेनी पड़ी है। टीम बिल्डिंग के अंदर घुसकर लोगों को बचाने में जुटी है।

ये भी पढ़ें : विश्वेश्वरैया भवन से सटे PHED भवन का हाल देखिए : आग बुझाने वाले सिलेंडर तो हैं पर इन पर मैन्यूफैक्चरिंग डेट 2019 लिखा है, रिफलिंग की कोई अन्य तारीख नहीं

बताया जा रहा है कि इस दौरान कुछ लोग अंदर भी फंसे थे, जिन्हें निकाला गया है। लेकिन अभी कई और लोगों के फंसे होने की आशंका है। यहां सफाई का काम करने वाली एक महिला के अनुसार कई मजदूर अभी भी ऊपर फंसे हैं। फिलहाल आग बुझाने के साथ ही रेस्क्यू का काम भी किया जा रहा है।

बिल्डिंग में अभी भी कई लोगों के फंसे होने की बात कही जा रही है।
बिल्डिंग में अभी भी कई लोगों के फंसे होने की बात कही जा रही है।

बता दें कि इस बिल्डिंग में कई महत्वपूर्ण सरकारी विभागों के ऑफिस हैं। बीते दो साल से भी अधिक समय से यहां मरम्मत का काम चल रहा है। इमारत में न सिर्फ नए फ्लोर बनाए गए हैं, बल्कि इसे भूकंपरोधी बनाने के लिए भी काम चल रहा था। कुछ दिन पहले ही मुख्य भवन के पास बनी इमारत को गिराया गया था। वहां अब नया निर्माण हो रहा है।

आगे देखें कुछ और तस्वीरें-

आग बुझाने और रेस्क्यू के लिए आई दमकल की गाड़ियां।
आग बुझाने और रेस्क्यू के लिए आई दमकल की गाड़ियां।
आग लगने से काला पड़ा बिल्डिंग का तीसरा और चौथा फ्लोर।
आग लगने से काला पड़ा बिल्डिंग का तीसरा और चौथा फ्लोर।
आग बुझाने के लिए फेंका जा रहा पानी।
आग बुझाने के लिए फेंका जा रहा पानी।