श्रीहरमंदिर साहिब के मुख्य ग्रंथी ने की आत्महत्या की कोशिश:भाई राजेंद्र सिंह ने अपनी ही कृपाण से गर्दन पर किया वार; PMCH में भर्ती

पटना4 महीने पहले
PMCH में गंभीर बनी हुई है राजेंद्र सिंह की स्थिति।

पटना सिटी के तख्त श्रीहरमंदिर साहिब के मुख्य ग्रंथी भाई राजेंद्र सिंह ने आत्महत्या करने की कोशिश की है। उन्होंने खुद के कृपाण से अपनी गर्दन पर वार किया। घायल हालत में इलाज के लिए सिटी के गुरु गोविंद सिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लेकिन स्थिति की गंभीरता को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें PMCH रेफर कर दिया है।

घटना के बाद भाई राजेंद्र सिंह के परिवार सहित तख्त श्रीहरमंदिर साहिब में अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

राजेंद्र सिंह की फाइल फोटो।
राजेंद्र सिंह की फाइल फोटो।

पद पर दूसरे की बहाली से थे परेशान!
जानकारी के अनुसार श्री हरमंदिर साहिब के मुख्य ग्रंथी भाई राजेंद्र सिंह पिछले कुछ दिनों से परेशान दिख रहे थे। लोगों ने बताया कि उनके पद पर किसी दूसरे की बहाली की सूचना है। गुरुवार को वह ज्यादा परेशान दिखे। इसी क्रम में उन्होंने आत्महत्या की नियत से अपने कृपाण से खुद के गर्दन पर कई वार किए। खून से लथपथ होने के बाद जब परिजनों ने उनकी स्थिति देखी तो आनन-फानन में उन्हें गुरु गोविंद सिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया।

घायल होने की वजह से उनके शरीर से काफी खून का बहाव हो गया था, जिसके कारण स्थिति धीरे-धीरे गंभीर होती चली गई। मामले में चौक थाना प्रभारी ने बताया कि घटना की सूचना मिली है। छानबीन की जा रही है।

अभी तक औपचारिक शिकायत नहीं, प्रेशर की जानकारी नहीं
पटना के SSP मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा है कि घटना के बारे में चौक थाना को सूचना मिली है। राजेंद्र सिंह के गर्दन पर किसी धारदार हथियार से चोट लगी है। जांच करने गई पुलिस को कुछ लोगों ने कहा है कि उन्होंने खुद की कृपाण से गर्दन पर वार किया है। हालांकि उनके घरवालों ने अभी तक कोई औपचारिक शिकायत दर्ज नहीं कराई है। जैसे ही वो आवेदन देंगे, उस पर कार्रवाई की जाएगी।

SSP ने कहा कि राजेंद्र सिंह पर किसी तरह के प्रेशर की जानकारी नहीं है। गुरूद्वारे की कमिटियों के बीच लड़ाई जरूर है। लेकिन इनके द्वारा कभी किसी बात की आधिकारिक शिकायत थाने या कोर्ट में नहीं की गई है।