फरवरी के पहले हफ्ते से शुरु होनी है यात्रा:बिहार कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में नहीं जुड़ रहे वरीय कांग्रेसी

पटना4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस।

बिहार कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा से वरीय कांग्रेस नहीं जुड़ पा रहे। 5 जनवरी को बांका से शुरु हुई पदयात्रा दो चरण पूरा कर सीतामढ़ी के पुपरी में समाप्त हो चुकी है। कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा पर निकले राहुल गांधी की श्रीनगर में समापन के बाद बिहार में फिर से फरवरी के पहले हफ्ते से प्रदेश कांग्रेस की तीसरे चरण की भारत जोड़ो यात्रा शुरू होगी। हालांकि अब तक पहले दो चरण की यात्रा में बिहार के वरीय कांग्रेसी नहीं शामिल हो पाये हैं।

अब तक बांका, भागलपुर, खगड़िया, बेगूसराय, समस्तीपुर, दरभंगा, मधुबनी और सीतामढ़ी 8 जिला से करीब 300 किलोमीटर की भारत जोड़ो यात्रा पूरी कर सीतामढ़ी के पुपरी में समाप्त हुई है। पर 5 जनवरी को भारत जोड़ो यात्रा का उद्घाटन करने बांका आये पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के सम्मान में तो वहां वरीय कांग्रेसी पहुंचे और अपनी उपस्थिति भी दर्ज करायी।

पर 5 जनवरी से 23 जनवरी तक की करीब 18 दिनों की यात्रा में वरीय नेता तारिक अनवर, मीरा कुमार, निखिल कुमार, एकमात्र लोकसभा सांसद मो. जावेद, राज्यसभा सांसद रंजीत रंजन, विधायक विजय शंकर दूबे, मुन्ना तिवारी, मनोहर प्रसाद सिंह, राजेश कुमार, एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्रा, पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष श्याम सुंदर सिंह धीरज, कौकब कादरी समेत कई कांग्रेसी अब तक यात्रा में दिन भर भी शामिल नहीं हो पाये हैं।

प्रियंका गांधी।
प्रियंका गांधी।

पटना में प्रियंका करेंगी संबोधित
बिहार कांग्रेसियों की भारत जोड़ो यात्रा पहल से तय कार्यक्रम के मुताबिक सीतामढ़ी से अब मुजफ्फरपुर, वैशाली, पटना, कैमूर, सासाराम, औरंगाबाद, गया होते हुए बोधगया तक जायेगी। पटना में वरीय नेत्री प्रियंका गांधी और बोधगया में राहुल गांधी द्वारा सभा को संबोधित करना है। दरअसल इस यात्रा से लोगों को जोड़ने और सफल बनाने के लिये हर जुगत की जा रही है।

दूसरे चरण की शुरुआत हुई तो खगड़िया के कोसी कॉलेज में लोक गायिका नेहा सिंह राठौर और भोजपुरी गायिका अनुपमा यादव का रंगारंग कार्यक्रम भी हुआ। पर पार्टी के नेताओं की मानें तो पहले चरण की यात्रा (बांका भागलपुर, खगड़िया) की तरह दूसरे चरण की यात्रा (बेगूसराय, समस्तीपुर, दरभंगा, मधुबनी) में लोगों के उत्साह में थोड़ी कमी नजर आयी है। अब तीसरे चरण की यात्रा जो फरवरी में शुरु होगी उसपर नेताओं की नजर टिकी हुई है।

खबरें और भी हैं...