बिहार के सियासी उठापटक पर सुनिए जनता क्या कहती है:किसी ने कहा CM तो नीतीश ही चाहिए, कोई बोला- समय के साथ बदलना जरूरी

पटना4 महीने पहलेलेखक: वंदना कुमारी

बिहार में मंगलवार को बड़ी सियासी उलटफेर हुई है। बीजेपी-जदयू गठबंधन टूट गया है। नीतीश कुमार अब महागठबंधन के साथ मिलकर सरकार बनाएंगे। वहीं, इस सियासी बदलाव को लेकर दैनिक भास्कर संवाददाता ने लोगों की राय जानी। इस बदलाव का असर पड़ेगा।

तेजस्वी यूथ हैं, कुछ अलग करेंगे

पटना के लोगों से बताया कि सरकार तो बदलते रहती है। लेकिन इस बार नीतीश कुमार पलटी मार दिए। क्योंकि, नीतीश कुमार ऐसे भी सियासत में कुछ ना कुछ गुल खिलाते रहते हैं। इस बीच सरकार बदलना कोई बड़ी बात नहीं है। हां, यह बात है तेजस्वी को मौका दिया जा रहा है। यूथ हैं, कुछ अलग करेंगे। लोगों को इस सरकार से थोड़ी उम्मीद है।

नई सरकार से उम्मीदें हैं

पिछले कई सालों से सरकार बिल्कुल गिर चुकी थी। लेकिन अब नई सरकार से उम्मीदें जुड़ी है। कई लोगों ने कहा कि सरकार का काम है, बस वादे पर वादे करना। लेकिन वादों को पूरा नहीं करना सरकार तो बनेगी ही। लेकिन यहां पर आम जनता का कोई फायदा नहीं होने वाला है। लोग बस अपनी रोटी सेंकने में लगे रहते हैं।

कई लोगों ने बदलाव का स्वागत करते हुए कहा कि देर आए पर दुरुस्त आएं | वहीं कुछ लोगों ने इस फैसले को पूरी तरह गलत बताया और इससे नाखुश भी दिखे | लोगों के अलग - अलग राय के साथ-साथ उनकी टिप्पणी भी अलग-अलग थी |