राबड़ी देवी ने बहू की उतारी आरती:पूर्व CM आवास पर राजश्री ने तेजस्वी को खिलाई खीर, पति ने घुमाया ससुराल

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेजस्वी को खीर खिलाती राजश्री यादव। - Dainik Bhaskar
तेजस्वी को खीर खिलाती राजश्री यादव।

तेजस्वी यादव ने भले ईसाई धर्म की लड़की रेचल उर्फ राजश्री से शादी की है, लेकिन उनका स्वागत पूरी तरह से बिहारी तौर-तरीकों से सोमवार की रात पटना में किया गया। उनकी सास यानी पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने हिन्दू रीति रिवाज से नई बहू का स्वागत किया। गाड़ी में ही बहू की आरती उतारी, उनके माथे पर सिंदूर का टीका किया और फूलों से उनका स्वागत किया।

बहू राजश्री के माथे पर सिंदूर लगातीं राबड़ी देवी।
बहू राजश्री के माथे पर सिंदूर लगातीं राबड़ी देवी।

तेजस्वी यादव और राजश्री पटना पहुंचे तो एयरपोर्ट से लेकर घर तक उनके स्वागत करने की बड़ी तैयारी की गई थी। इसमें राबड़ी देवी की महत्वपूर्ण भूमिका रही। घर पहुंचने पर राजश्री को पहले दही, फिर बाद में दाल भरी पूड़ी और खीर खिलाया गया। बिहार में नई बहू के घर आने पर आमतौर पर दाल भरी पूड़ी और खीर खिलाने की प्रथा है।

राबड़ी देवी के साथ तेजस्वी यादव और बहू राजश्री यादव।
राबड़ी देवी के साथ तेजस्वी यादव और बहू राजश्री यादव।

जब तेजस्वी यादव के सामने खाने का प्लेट आया तो पहला निवाला राजश्री ने अपने पति को खिलाया। उसके बाद दोनों ने राबड़ी देवी के साथ फोटो भी खिंचवाया। तेजस्वी ने रात में ही राजश्री को ससुराल और अपना पूरा घर दिखाया।

तेजस्वी और राजश्री की आरती उतारती राबड़ी देवी।
तेजस्वी और राजश्री की आरती उतारती राबड़ी देवी।

तेजस्वी यादव की बहन रोहिणी आचार्य ने इन सभी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर साझा किया है। साथ ही उन्होंने लिखा है, 'रिश्तों की नई डोर है, खुशियों की भोर है। यह रिश्ता प्रेम, अपनत्व, भरोसे, अपनापन का संगम है। यह एक नई सुखद भोर की शुरुआत है। एक नए सपने की शुरुआत है। एक जिम्मेदारी और नए एहसास का सफर है। यह समय है खुशियों में शरीक होने का। यह समय है एक बेटी के कदमों को घर में पूजने का।'

तेजस्वी बोले- मां-पापा ने पूछा था तुम्हारी नजर में कोई लड़की हो तो बताओ, मैंने बताया और वे राजी हो गए

खबरें और भी हैं...