धोखाधड़ी:नकली पाइप निर्माण फैक्ट्री में छापा, लाखों का तैयार माल बरामद, संचालक फरार

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दमराही घाट में चल रहे नकली पाइप फैक्ट्री में छापेमारी करती पुलिस। - Dainik Bhaskar
दमराही घाट में चल रहे नकली पाइप फैक्ट्री में छापेमारी करती पुलिस।
  • मुंबई की कंपनी का पाइप यहां तैयार कर बिहार-झारखंड में आपूर्ति की जा रही थी

मालसलामी थाना क्षेत्र के दमराही घाट स्थित प्लास्टिक पाइप तैयार करने वाली वाली फैक्ट्री में पुलिस ने सोमवार को छापेमारी कर लाखों रुपए मूल्य का नकली पाइप बरामद किया है। प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है, कि मुंबई की एक नामी-गिरामी कंपनी का पाइप यहां तैयार कर बिहार -झारखंड में आपूर्ति की जा रही थी। इससे सरकार के खाते से टैक्स की चोरी एवं उपभोक्ता ठगे जा रहे थे। कारखाने में कितना का माल अभी बरामद हुआ है,यह स्पष्ट नहींं हो सका है। कंपनी के प्रतिनिधि के साथ मालसलामी थाना की पुलिस छानबीन करने में जुटी है।

नक्कालों के गढ पटना सिटी में ब्रांडेड कंपनियों का नकली समान तैयार करने में माहिर है। ब्रांडेड कंपनियों को धोखा देने के लिए नाम एवं ब्रांड में मामूली हेरफेर भी कर देते हैं,ताकि पकड़े जाने पर बचने का रास्ता मिल सके। सोमवार को दमराही घाट स्थित कंपनी के प्रतिनिधि अधिवक्ता के सांथ मालसलामी थाना की पुलिस टीम पहुंची। अधिकारियों का कहना है, कि टीम के पहुंचते ही कारखाना से सभी लोग फरार हो गए।

कंपनी के अधिवक्ता प्रतिनिधि ऋषि कुलश्रेष्ठ का कहना है, कि फैक्ट्री में करोड़ों रुपए की मशीन से नकली पाइप का निर्माण किया जा रहा था। छापेमारी टीम ने पाइप एवं प्लास्टिक दाना और लाखों रुपए का तैयार माल बरामद किया है। अधिकारियाें ने बताया कि तैयार माल पर ब्रांड का नाम व लोगो एवं मोनोग्राम मिला है। कंपनी के अधिवक्ता ने अनुसार ब्रांडेड कंपनी की पाइप का नकली बनाकर बिहार, झारखंड समेत अन्य राज्यों में बेचा जा रहा था। खरीदार ठगी का शिकार हो रहे थे जबकि टैक्स की भी चोरी हो रही थी।

कागजात की होगी जांच
मालसलामी थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने बताया कि कंपनी की ओर से आवेदन मिलने पर कॉपी राइट एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। फैक्ट्री का संचालक फरार है। संचालक के कागजात की भी जांच की जाएगी।

खबरें और भी हैं...