पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जदयू के प्रशिक्षण का आखिरी दिन:आरसीपी बोले-गाली देने वालों को आईना दिखाएं कार्यकर्ता

पटना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि जदयू के हर कार्यकर्ता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संस्कार से लैस हैं। उनकी भाषा कभी भी गाली की नहीं होगी। लेकिन गाली देने वालों को आईना जरूर दिखाएं। एक संस्कारी व्यक्ति अपने, समाज और पूरे बिहार के हित में जैसा जवाब दे सकता है, वैसा जवाब दे। वह जदयू के प्रशिक्षण कार्यक्रम के आखिरी सत्र को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा- जदयू मीडिया के सभी माध्यमों पर नंबर एक होगा। मुख्य जिला प्रवक्ता, मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म पर अपनी पार्टी की विचारधारा और अपने नेता के काम को पूरी मजबूती से रखें। विश्वविद्यालयों में सेमिनार का आयोजन कर विकास कार्यों का प्रचार किया जाए।

युवाओं को बताया जाए कि उनके रोजगार व स्वरोजगार के लिए कितने काम हो रहे हैं? आरसीपी ने पार्टी की नेत्रियों से कहा कि वे महिलाओं के बीच जाकर उनके उत्थान के लिए किए जा रहे सरकार के कामों को बताएं। प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने कहा कि मुख्य जिला प्रवक्ता अपने-अपने जिलों में पार्टी के स्टार प्रचारक होंगे। उन क्षेत्रों का विशेष रूप से दौरा किया जाए, जहां मीडिया में हमारी उपस्थिति अपेक्षाकृत कम है। प्रशिक्षण की शुरुआत में मौलाना अबुल कलाम आजाद की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

इन्होंने दिया प्रशिक्षण
डॉ.अमरदीप, राजीव रंजन प्रसाद, डॉ. अजय आलोक, डॉ. सुहेली मेहता, प्रगति मेहता, निखिल मंडल, अंजुम आरा, अरविन्द निषाद तथा डॉ.रिंकु कुमारी ने तय विषयों पर अपनी बातें रखीं। संचालन, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष सुनील कुमार ने किया।

ये भी थे मौजूद
इस दौरान मंगनीलाल मंडल, प्रो.रामवचन राय, संजय कुमार सिंह उर्फ गांधीजी, ललन सर्राफ, रवीन्द्र सिंह, डॉ.नवीन कुमार आर्य, अनिल कुमार, चंदन कुमार सिंह, परमहंस कुमार, डॉ. विपिन यादव, कामाख्या नारायण सिंह, अरुण कुशवाहा, अशोक कुमार बादल, आसिफ कमाल, डॉ. रामगुलाम राम, मृत्युंजय कुमार सिंह आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें