बिहार में जश्न-ए-गणतंत्र:पटना में राज्यपाल ने फहराया तिरंगा; बोले- बेरोजगारों को नौकरी देने के लिए सरकार तत्पर

पटना9 दिन पहले
पटना के गांधी मैदान में राज्यपाल ने तिरंगा फहराया।

देश आज अपना 74वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इसी मौके पर पटना समेत पूरे बिहार में भी जश्न का माहौल है। पटना में गणतंत्र दिवस समारोह का मुख्य कार्यक्रम गांधी मैदान में आयोजित किया गया है।

इस मौके पर गांधी मैदान में बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने तिरंगा फहराया। इससे पहले राज्यपाल ने खुली जीप में सवार होकर परेड का निरीक्षण किया। समारोह में बिहार सरकार के 12 विभागों की रंग-बिरंगी और खूबसूरत झांकियां निकली गई।

राज्यपाल ने कहा कि बिहार में कोविड-19 की जांच लगातार जारी है। और वर्तमान में एक भी कोरोना का मामला नहीं है। हर घर बिजली हर घर तक पानी पहुंचा दो गई है। और जो भी एक बचे हैं उन्हें जल्द ही पूरा किया जाएगा।

राज्य में युवाओं को सरकारी नौकरी दिलाने के लिए सरकार तत्पर है। युवाओं को बिहार सरकार के कई विभागों में 28000 नियुक्ति पत्र दिए गए हैं। कई जिलों में बायपास और ब्रिज का काम चल रहा है। कई जिलों में बाइपास और ब्रिज का काम चल रहा है।

बिहार सरकार द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए काम किया जा रहा है। बिहार सरकार द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए काम किया जा रहा है। गंगा जल आपूर्ति योजना के तहत राजगी कर गया में हर घर तक गंगा जल पहुंचा दिया गया है। ईको टूरिज्म को लेकर सरकार आगे बढ़ रही और इस पथ पर काम कर रही है।

उपेंद्र कुशवाहा पर बयान देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हम उन्हें पार्टी में लेकर आए। सम्मान जनक पद दिया। सम्मान दिया इसके बाद भी वह केवल बाहर में बयान दे रहे हैं। अगर उन्हें कोई परेशानी है तो आए मुझसे बात करें, बैठे उनकी समस्या का समाधान होगा मीडिया में बयान देने से कुछ नहीं होता है।

एक-दूसरे का अभिवादन करते दिखे राज्यपाल फागू चौहान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।
एक-दूसरे का अभिवादन करते दिखे राज्यपाल फागू चौहान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।
गांधी मैदान में राज्यपाल फागू चौहान के साथ CM नीतीश कुमार और डिप्टी CM तेजस्वी यादव।।
गांधी मैदान में राज्यपाल फागू चौहान के साथ CM नीतीश कुमार और डिप्टी CM तेजस्वी यादव।।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने आवास पर तिरंगा फहराया।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने आवास पर तिरंगा फहराया।
उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने फहराया तिरंगा।
उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने फहराया तिरंगा।
राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कार्यालय में झंडोत्तोलन किया।
राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कार्यालय में झंडोत्तोलन किया।
विधान परिषद सभापति देवेश चंद्र ठाकुर ने बिहार विधान परिषद में झंडोत्तोलन किया।
विधान परिषद सभापति देवेश चंद्र ठाकुर ने बिहार विधान परिषद में झंडोत्तोलन किया।
DGP राजविंदर सिंह भट्टी ने पहली बार मुख्यालय में गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराया।
DGP राजविंदर सिंह भट्टी ने पहली बार मुख्यालय में गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराया।
गांधी मैदान में कदमताल करते जवान।
गांधी मैदान में कदमताल करते जवान।
गांधी मैदान में श्वान दस्ता में शामिल हुए 6 कुत्ते।
गांधी मैदान में श्वान दस्ता में शामिल हुए 6 कुत्ते।
गांधी मैदान में परेड के दौरान कदमताल करते जवान।
गांधी मैदान में परेड के दौरान कदमताल करते जवान।

गणतंत्र दिवस से जुड़ी अन्य खबरें भी पढ़िए..

बिहार में 1979 में पहली बार निकली थी झांकी:गांधी मैदान में 6 झांकियों का प्रदर्शन, आइडिया यहां से आया था...

गणतंत्र दिवस को लेकर पटना में हर साल गांधी मैदान में झांकियां निकाली जाती है। भारत में संविधान लागू होने के 29 साल बाद पटना में झांकियां निकाली गई थीं। झांकियां निकालने की शुरुआत 1979 में गणतंत्र दिवस से हुई थी। 1979 में पटना के तत्कालीन जिलाधिकारी आरएन सिन्हा ने इसकी पहल की थी। इससे पहले गांधी मैदान में सिर्फ परेड करने की परपंरा थी।

1979 के गणतंत्र दिवस के अवसर पर राज्यपाल ने परेड का निरीक्षण किया। झंडोत्तोलन के बाद मार्च पास्ट हुआ। परेड विसर्जन के बाद राज्य सरकार की ओर से झांकियों का प्रदर्शन प्रारम्भ हुआ। पूरी रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करिए

संविधान की मूल कॉपी विशेष विमान से पटना आई थी:खुद तत्कालीन राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद लेकर आए थे, जानिए क्यों...

26 जनवरी 2023 यानी आज भारत अपना 74वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। 26 जनवरी 1950 यानी संविधान लागू होने से ठीक दो दिन पहले संविधान की मूल कॉपी विशेष विमान से पटना लाई गई थी। गणतंत्र दिवस पर पढ़िए इसके पीछे की संविधान से जुड़ा वो किस्सा...

प्रधानमंत्री के सामने परफॉर्मेंस देगा गोलगप्पे वाले का बेटा:परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे बिहार के 3 बच्चे; बाकी दोनों के पिता भी मजदूर

गोलगप्पे का स्टॉल लगाने वाले मदन प्रसाद, अगरबत्ती की फैक्ट्री में काम करने वाली संजू देवी और फाइल की बाइंडिंग करने वाले मोहम्मद मुख्तार ने कभी नहीं सोचा था कि उनके बच्चे कभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने विभिन्न कार्यक्रमों की प्रस्तुति देंगे। यह बच्चे 27 जनवरी को होने वाले परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

साथ हीं, 28 जनवरी को विजय चौक पर बीटिंग रिट्रीट कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे। इन सभी का चयन तीन से सात जनवरी ओड़िशा में आयोजित कला उत्सव में हुआ है। यह सभी बच्चे किलकारी बाल भवन से जुड़े हैं। उनके साथ उनकी शिक्षिका बिंदु कुमारी सिंह पहुंची हैं। पूरी रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करिए