पटना में छात्रों ने निकाली तिरंगा यात्रा:पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी के बाहर टायर जला किया सड़क जाम, छात्र नेता पर एफआईआर वापस लेने की मांग

पटना10 दिन पहले
सड़क पर आगजनी करते छात्र।

राजधानी पटना में छात्रों ने कॉलेज ऑफ कॉमर्स से पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी तक पैदल तिरंगा यात्रा निकाला। जिसके बाद पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी के बाहर सैकड़ों की संख्या में छात्रों ने खूब बवाल काटा। इस दौरान सड़कों पर टायर भी जलाया। जिसकी वजह से गाड़ियों का आवागमन भी बाधित रहा। इस दौरान सैकड़ों गाड़ियां काफी देर तक रुकी रही। छात्र इतने आक्रोषित थे कि वे पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी के परीक्षा नियंत्रक और डिप्टी कंट्रोलर के खिलाफ खूब नारेबाजी कर रहे थे। मामला इतना उग्र हो गया कि इसको संभालने के लिए सिटी मजिस्ट्रेट एमएच खान को दल बल के साथ खुद पहुंचना पड़ा। और फिर छात्रों को शांत करवा कर सड़क को चालू करवाया गया।

क्या था मामला

दरअसल बीते दिनों छात्र नेता विकाश बॉक्सर यादव के उपर पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी के तरफ से मारपीट का आरोप लगाया गया था। जिसके बाद बॉक्सर यादव के उपर एफआईआर किया गया था। जिसके विरोध में छात्रों ने यूनिवर्सिटी को एफआईआर वापस लेने के लिए ये प्रदर्शन किया। वहीं दूसरी तरफ भास्कर से बातचीत के दौरान छात्र बॉक्सर यादव ने यूनिवर्सिटी के ऊपर आरोप लगाते हुए कहा कि यूनिवर्सिटी के तरफ से एक पोर्टल बनाया गया, जिसमे छात्रों से रजिस्ट्रेशन और नामांकन के नाम पर 10 रुपए लिए गए और उन सभी पैसों का घोटाला कर दिया गया। जिसके विरोध में मैं पहले से आवाज उठा रहा हूं। फिर मुझे परीक्षा नियंत्रक के द्वारा बातचीत के लिए बुलाया गया, जिसके बाद मुझे धमकी दी गई और मेरे साथ मारपीट की गई। और उल्टा मेरे उपर ही एफआईआर कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं...