तेजस्वी की जमानत के खिलाफ सीबीआई की अर्जी:शिवानंद बोले- बिहार में बदलाव से भाजपा नेताओं की उड़ी नींद

पटना16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव - Dainik Bhaskar
उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व वरिष्ठ नेता शिवानंद ने कहा कि सीबीआई ने दिल्ली की विशेष अदालत में तेजस्वी यादव के जमानत को खारिज करने की अर्जी दी है। रेलवे के रांची और उड़ीसा स्थित दो होटलों को दबाव बनाकर नाजायज ढंग से निजी हाथों में दे देने के आरोप की जांच सीबीआई कर रही है। इस मामले में राजद सुप्रीमो लालू के अलावा पूर्व सीएम राबड़ी और तेजस्वी यादव को भी अभियुक्त बनाया गया है।

दिल्ली की विशेष अदालत ने 2018 में ही तेजस्वी और राबड़ी को जमानत दे दी थी। अब अचानक उसकी नींद खुल गई है। वह भी तब जब नीतीश कुमार राजद के नेतृत्व वाले महागठबंधन में शामिल हुए हैं। शिवानंद ने कहा कि दरअसल बिहार में राजनीतिक बदलाव ने भाजपा की नींद उड़ा दी है।

2018 में विशेष अदालत ने तेजस्वी यादव को जमानत दी थी। उस समय से अब तक तेजस्वी यादव ने सीबीआई की जांच को प्रभावित नहीं किया। अब आरोप है कि अचानक वे जांच को प्रभावित करने लगे हैं।

सीबीआई के इस आचरण से तो यही प्रमाणित होता है कि दिल्ली की मोदी सरकार राजनीतिक ब्लैक मेलिंग के लिए जानबूझकर कर ऐसे मामलों को लटकवा कर रखती है। जनता सब समझ रही है। वहीं राजद के प्रवक्ता ऋषि मिश्रा ने कहा कि तेजस्वी की ताकत से डरे लोग उन्हें फंसाने की कोशिश कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...