पटना में फिर कोरोना का कहर:NMCH के फाइनल ईयर के छात्र शुभेंदु की कोविड से मौत, संपर्क में रहे चार अन्य छात्र संक्रमित

पटना9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शुभेंदु शुभम। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
शुभेंदु शुभम। (फाइल फोटो)
  • शुभेंदु सुमन बेगूसराय के दहिया गांव के रहने वाले थे, मौत भी वहीं हुई
  • कोरोना पॉजिटिव पाए गए दो अन्य छात्र निजी अस्पताल में भर्ती हैं

पटना में कोरोना का कहर फिर शुरू हो गया है। NMCH पटना के छात्र शुभेंदु शुभम की मौत सोमवार को कोरोना के कारण हो गई। शुभेंदु MBBS के 2016 बैच के छात्र थे। वे नालंदा मेडिकल कॉलेज (NMCH) के फाइनल ईयर के छात्र थे। जानकारी के अनुसार शुभेंदु ने कुछ दिन पहले ही कोविड-19 का टीका भी लिया था। मंगलवार को NMCH के नौ छात्र कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। शुभेंदु शुभम बेगूसराय के दहिया गांव के रहने वाले थे। उनकी मौत भी वहीं हुई। शुभेंदु पटना में NMCH के ओल्ड ब्वॉयज हॉस्टल में रहते थे।

चिंता की बात यह है कि शुभेंदु के संपर्क में रहे चार अन्य छात्र संक्रमित हैं। इनमें दो का इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है। NMCH में किसी मेडिकल स्टूडेंट की कोरोना से यह पहली मौत है। उसकी मौत की खबर मिलते ही कॉलेज में अफरातफरी की स्थिति हो गई है। NMCH के प्राचार्य डॉ. हीरा लाल महतो के अनुसार शुभेंदु ने 24 जनवरी को सर्दी-खांसी होने के बाद अपना RTPCR सैंपल दिया था। उसके बाद वे अपने गांव चले गए। रविवार को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उन्हें वहीं होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई थी।

NMCH में 9 छात्रों के पॉजिटिव पाए जाने की आशंका जताई जा रही है। NMCH के एक सीनियर डॉक्टर ने बताया कि कॉलेज के कोरोना पॉजिटिव पाए गए दो अन्य छात्र निजी अस्पताल में भर्ती होकर अपना इलाज करा रहे हैं। कोरोना संक्रमित छात्रों के लिए अस्पताल में अलग से आइसोलेशन सेंटर बनाया जा रहा है। एक छात्र की मौत और 9 नए छात्रों के संक्रमित पाए जाने से NMCH में छात्रों, डॉक्टरों और शिक्षकों में दहशत बना हुआ है।

बताया गया है कि बीमार पड़ने के बाद शुभेंदु लखीसराय स्थित अपने ननिहाल शेरपुर गांव भी गए थे। वहां तबीयत बिगड़ने के बाद अपने गांव दहिया चले गए थे। दो दिन पहले उन्हें बेगूसराय के एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। वहीं उनकी मौत हो गई। प्राचार्य हीरालाल महतो ने बताया कि कॉलेज परिसर में स्थित 3 हॉस्टल को सैनेटाइज कराया गया है। इस समय कॉलेज में टर्मिनल परीक्षा चल रही है। छात्रों से कहा गया है कि जो घर जाना चाहते हैं, वे परीक्षा छोड़कर घर जा सकते हैं।

खबरें और भी हैं...