पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विशेष साक्षात्कार:सुरजेवाला बोले- तेजस्वी की तरुणाई और कांग्रेस के तजुर्बे से बनेगा नया बिहार

पटना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुरजेवाला ने कहा- प्रजातंत्र में व्यावहारिक होना और पार्टी के बढ़ाव के अवसर निरंतर खोजना, किसी भी राजनीतिक दल का धर्म और कर्तव्य भी है। - Dainik Bhaskar
सुरजेवाला ने कहा- प्रजातंत्र में व्यावहारिक होना और पार्टी के बढ़ाव के अवसर निरंतर खोजना, किसी भी राजनीतिक दल का धर्म और कर्तव्य भी है।
  • एक तरफ नए तेज व वेग का गठजोड़, दूसरी तरफ टायर्ड व रिटायर्ड सरकार

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला चुनाव प्रचार के लिए बिहार दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने विधानसभा चुनाव में पार्टी की रणनीति, नई सरकार के गठन में भूमिका समेत कई मुद्दों पर दैनिक भास्कर के विशेष संवाददाता कैलाशपति मिश्र से खुलकर बातें कीं।

सवाल: कांग्रेस, राष्ट्रीय पार्टी होते हुए बिहार में राजद की बी टीम के रूप में काम कर रही है? सुरजेवाला - प्रजातंत्र में व्यावहारिक होना और पार्टी के बढ़ाव के अवसर निरंतर खोजना, किसी भी राजनीतिक दल का धर्म और कर्तव्य भी है। पिछले चुनाव में हम 41 सीट पर लड़े थे, इस बार 70 पर लड़ रहे हैं। पार्टी के लिए आज सबसे अहम बिहार की प्रगति है। इसलिए कुछ कुर्बानी राजद ने की, कुछ कांग्रेस ने। विकास की नई इबारत लिखने, नए तेज व वेग का महागठबंधन बनाया है। इसके विपरीत दूसरी तरफ टायर्ड व रिटायर्ड सरकार है। सवाल: कांग्रेस ने सवर्णों को ज्यादा टिकट दिया है ? जवाब- टिकट चुनाव का छोटा सा पहलू है। कांग्रेस कभी जाति निहित टिकट नहीं बांटती है। हमारी सूची में अति पिछड़े, पिछड़े, दलित-महादलित और महिलाएं सभी को स्थान दिया गया है। सवाल: कांग्रेस ने जाले से जिन्नापरस्त को उतारा है ? जवाब- सच्चाई यह है कि वह नौजवान गांधीवादी है। पाक परस्त तो भाजपा है। पीएम मोदी बिन बुलाए बर्थडे की दावत खाने पाकिस्तान गए थे। रिटर्न गिफ्ट में उरी में उग्रवादी हमला मिला। पठानकोट एयरबेस पर हमले की जांच के लिए मोदी-शाह ने उग्रवादियों की पोशाक में आईएसआई को बुलाया था। ये वही लोग हैं जो मसूद अजहर जैसे उग्रवादी को जहाज पर बैठाकर कंधार छोड़कर आते हैं। सवाल: क्या शराबबंदी कानून को निरस्त करेंगे ? जवाब- कांग्रेस ने शराबबंदी कानून की समीक्षा की बात नहीं की है। कांग्रेस ने साढ़े तीन लाख परिवार यानी 40 से 50 लाख बिहार के लोग जो छोटे-मोटे मामले में जेल में पड़े हैं, उनके परिवार ठोकरें खा रहे हैं, कानून की परिधि में उनकी मदद का रास्ता ढूंढने की बात की है। शराब माफियाओं काे नीतीश सरकार का सीधा संरक्षण है। पुलिस और शराब माफिया एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। उन मगरमच्छों को की बजाए, गरीब जेल में बंद हैं। सवाल: एनडीए के नेता चुनाव प्रचार में लालू-राबड़ी राज की बात का जिक्र करने लगे हैं ? जवाब- भाजपा-जदयू भय, डर, दबाव और बल दिखाकर वोट बटोरते हैं। महागठबंधन नई सोच, नई दृष्टि, नया रास्ता और ऊर्जा के साथ मैदान में है। वो डराएंगे हम सुरक्षा देंगे, वो दबाएंगे हम आगे बढ़ाएंगे, वो भय फैलाएंगे, हम तरक्की का दीपक जलाएंगे। तेजस्वी यादव एक नई उम्र के नौजवान हैं, नई सोच लेकर आएं हैं, कुछ करने का उनमें जज्बा है। लोगों की आकांक्षाओं पर खरे उतरने का जोश उनके मन में है। तेजस्वी की तरुणाई और कांग्रेस के तजुर्बे और काबिलियत के साथ एक नया बिहार का निर्माण करेंगे। सवाल: क्या सरकार बनाने में चिराग की मदद लेंगे ? जवाब- नहीं... क्योंकि लोजपा भाजपा की ही बी टीम है। भाजपा दो सीधे सवाल का जवाब दे-अगर चिराग उनकी बी टीम नहीं हैं तो, उन्हें एनडीए से बाहर क्यों नहीं निकालती। दूसरा जहां-जहां जदयू चुनाव लड़ रह है तो वहां-वहां सारे भाजपाई लोजपा के उम्मीदवार कैसे हैं। चिराग पासवान बी टीम नहीं तो मोदी का फोटो लगाने पर उनकी पार्टी का चुनाव चिह्न निरस्त करने के लिए चुनाव आयोग से शिकायत क्यों नहीं करती है।

सवाल: 10 लाख नौकरियों के लिए सरकार कहां से रुपए लाएगी

जवाब- जहां तक संसाधन की बात है तो बिहार का बजट 2.11 लाख करोड़ का है। जदयू-भाजपा की सरकार 40 फीसदी बजट सरेंडर करती है। यह राशि ही करीब 80 हजार करोड़ हो जाती है। भाजपा-जदयू 10-20 हजार करोड़ की नाजायज शराब की अर्थव्यवस्था चलाती है। इस पर अंकुश लगाएंगे। 25 हजार करोड़ का जल-जीवन योजना का घोटाला है। इस पैसे का सदुपयोग करेंगे। 30 हजार करोड़ के 55 घोटाले और हैं।

खबरें और भी हैं...