वैन साइड करने के बहाने 16 लाख कैश ले उड़ा:पटना में ड्राइवर की शातिरगिरी; IDBI बैंक के ATM में कैश डालने गए थे टेक्नीशियन और सिक्युरिटी गार्ड, इधर कैश वैन लेकर हुआ फरार

पटना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

बैंकों के ATM में कैश डिपॉजिट करने वाली कंपनी CMS के ड्राइवर का शातिराना खेल पटना में सामने आया है। कैश वैन का ड्राइवर 16 लाख रुपए कैश लेकर फरार हो गया है। इस मामले के सामने आने के बाद से हड़कंप मच गया है। यह घटना पटना के एसके पुरी थाना की है। इसी थाने में FIR दर्ज हुई है। कैश लेकर फरार होने वाले ड्राइवर का नाम सोनू शर्मा है। वर्तमान में यह पटना के ही रूपसपुर इलाके में किराए पर रह रहा था, जबकि यह मूल रूप से जहानाबाद जिले के भावनीचक का रहने वाला है।

दरअसल, कैश लेकर लेकर CMS की वैन बोरिंग रोड चौराहा पर स्थित IDBI बैंक के ATM में कैश डिपॉजिट करने पहुंची थी। वैन में 16 लाख रुपए कैश छोड़कर बाकी सब कैश लेकर दो टेक्नीशियन और सिक्युरिटी गार्ड IDBI बैंक के ATM में गए। उस वक्त ड्राइवर सोनू वैन को आगे में साइड लगाने की बात कह कर बढ़ गया, लेकिन आगे जाने के बाद वह रुक नहीं। वह आगे बढ़ता ही गया। वेस्ट बोरिंग केनाल रोड में पंचमुखी मंदिर के पास पहुंच गया। वहां उसने रुपयों से भरे बक्से का लॉक तोड़ा। फिर उसमें रखे करीब 16 लाख रुपये लेकर फरार हो गया। साथ ही उसने अपने मोबाइल फोन को बन्द कर दिया।

लौटे तो न गार्ड मिला, न ड्राइवर
दूसरी तरफ, ATM में रकम डालने के बाद जब टेक्नीशियन और सिक्युरिटी गार्ड वापस रोड पर लौटे तो उन्हें न तो कैश वैन दिखा और न ही ड्राइवर सोनू मिला। जब उसके मोबाइल पर फोन किया तो वो बन्द मिला। तब उन्हें अनहोनी का शक हुआ। फिर अपने ऑफिस को जानकारी दी। तब GPS के जरिए कंपनी के स्टाफ्स ने वैन को पंचमुखी मंदिर के पास से ढूंढ निकाला। साथ ही पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी। कंपनी के मैनेजर मनीष कुमार के बयान पर इस मामले में एसके पुरी थाना में FIR दर्ज हो गई है। थानेदार सतीश कुमार सिंह के अनुसार उनकी टीम ने सबसे पहले ड्राइवर के पटना वाले किराए के घर पर छापेमारी की। मगर, वहां उसका कमरा बन्द मिला। गेट पर ताला लटका हुआ था। अब पुलिस की टीम जहानाबाद के लिए निकल चुकी है। वहां उसके घर पर अब दबिश बनाएगी। छापेमारी कर उसे गिरफ्तार करने में जुटी हुई है।

खबरें और भी हैं...