• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Team Searching 5 Locations, Found Cash In Crores, Two And A Half Kg Of Silver, Half A Kg Of Gold With Flats Found In Patna Ranchi

बिहार का अफसर घर में रखा था 4 करोड़ कैश:पटना-गया-रांची के 5 ठिकानों पर रेड; 2.5 किलो चांदी, आधा किलो सोना भी मिला

पटना5 महीने पहले
छापेमारी के दौरान बरामद कैश और ज्वेलरी।

आय से अधिक संपत्ति मामले में घिरे ड्रग इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार के घर से शनिवार को करीब 4 करोड़ रुपए कैश बरामद किया गया है। पटना में पोस्टेड ड्रग इंस्पेक्टर के 5 ठिकानों पर सुबह से निगरानी अन्वेषण ब्यूरो एक साथ छापेमारी कर रही है।

पटना के सुल्तानगंज स्थित मलेरिया ऑफिस, इसी इलाके में स्थित इनका घर, पटना के ही गोला रोड में इनका प्राइवेट ऑफिस, गया में फ्लैट और प्राइवेट फार्मेसी कॉलेज शामिल है। इन सभी ठिकानों पर निगरानी की अलग-अलग टीम मौजूद है और कागजात से लेकर काफी कुछ खंगाल रही है।

गया का मनोरमा अपार्टमेंट का फ्लैट नंबर 201 जितेंद्र कुमार के नाम पर मिला है। जबकि, फ्लैट नंबर 202 का बिजली कनेक्शन भी इनके नाम पर है। इस कारण आशंका है कि इस फ्लैट के मालिक भी यही हैं। पटना के संदलपुर में स्थित मातृछाया अपार्टमेंट का फ्लैट नंबर 301 भी ड्रग इंस्पेक्टर के नाम पर ही मिला है। बिहार कॉलेज ऑफ फार्मेसी के जितेंद्र कुमार प्रिंसिपल हैं। इस कैंपस से निगरानी टीम के हाथ इनके नाम पर रजिस्टर्ड पंजाब नंबर की एक स्कॉर्पियो, एक पोलो कार, एक बाइक मिली है। टाटा एआइजी की एक पॉलिसी भी मिली है।

पटना में सुल्तानगंज वाले घर से करीब 4 करोड़ का कैश मिला है, इसे गिनने के लिए मशीन मंगाई गई है। हालांकि, कैश की गिनती आज नहीं हो पाई है। मुख्यालय के अनुसार कैश की गिनती अब रविवार को होगी। जो ज्वेलरी मिली है, उसमें 12 हजार रुपए की कीमत का हीरा, 36.48 लाख रुपए से अधिक की कीमत की करीब पौन किलो सोना, 1.66 लाख से अधिक की कीमत की तीन किलो चांदी बरामद की गई है।

जितेंद्र कुमार के घर से 4 करोड़ रुपए कैश मिले।
जितेंद्र कुमार के घर से 4 करोड़ रुपए कैश मिले।

पटना के ही ईस्ट बोरिंग कैनाल रोड में जितेंद्र कुमार ने एक फ्लैट खरीदा है। इन्होंने दूसरा फ्लैट झारखंड की राजधानी रांची में खरीदा है। जांच टीम का दावा है कि काली कमाई के जरिए अर्जित की गई चल-अचल संपत्तियों से जुड़े और भी कागजात मिल सकते हैं। इसके बारे में काफी खुलासा हो सकता है। उनका सर्च ऑपरेशन लगातार जारी है।

ड्रग इंस्पेक्टर के घर से ढाई किलो चांदी मिला।
ड्रग इंस्पेक्टर के घर से ढाई किलो चांदी मिला।

पद का दुरुपयोग कर पैसा कमाने का आरोप

बताया जा रहा है कि जितेंद्र कुमार अपने पद का दुरुपयोग कर रहे थे। आरोप है कि सरकारी नौकरी करते हुए इन्होंने जमकर भ्रष्टाचार किया है। इनके खिलाफ राज्य सरकार के पास लगातार शिकायतें आ रही थी। इसके बाद ही मामला निगरानी अन्वेषण ब्यूरो को सौंपा गया। फिर एक टीम बनाकर जितेंद्र कुमार के ऊपर लगे आरोपों की जांच कराई गई। इसमें इनके खिलाफ काफी सबूत मिले। काली कमाई का मामला सही पाया गया। फिर निगरानी थाने में ड्रग इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में 1करोड़ 59 लाख 21 हजार 651 का केस दर्ज हुआ है। शनिवार को 5 अलग-अलग टीम बनाई गई और फिर सुबह से छापेमारी शुरू हो गई थी।