पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • The Condition Of Health And Education Is Low, The Demand For Making The District A Flood Is Very Old, Rajput Voters Are The Decider, But Most Candidates Of The Same Caste

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ग्राउंड रिपोर्ट बाढ़:स्वास्थ्य और शिक्षा की स्थिति लचर, बाढ़ को जिला बनाने की मांग बहुत पुरानी, राजपूत वोटर ही निर्णायक, मगर इसी जाति के अधिकतर प्रत्याशी

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दो पूर्व मुखिया ने लड़ाई को बना दिया रोचक।
  • हैट्रिक लगा चुके ज्ञानेंद्र के समर्थकों को भरोसा है- नाराज लोग मतदान करते समय मान जाएंगे

बाढ़ विधानसभा क्षेत्र में मुकाबला इसबार रोचक हो गया है। राजपूत बहुल बेलौर गांव में शाम की बैठकी लगी है। लोगों में निवर्तमान विधायक ज्ञानेंद्र कुमार सिंह से नाराजगी दिखी। लोगों की शिकायत है कि विधायक कभी क्षेत्र में दिखते नहीं हैं। हालांकि नाराज लोगों की बात काटते हुए एक समर्थक झट से उठ खड़ा होता है। कहता है-इन लोगों के बात पर मत जाइए। अभी नाराज हैं, सब वोट देने के वक्त मान जाएंगे। यहां पहले चरण में 28 अक्टूबर को मतदान होना है। मुख्य मुकाबला भाजपा के ज्ञानेंद्र कुमार सिंह और महागठबंधन की तरफ से कांग्रेस के सत्येंद्र बहादुर के बीच है। फिलहाल इस सीट पर बीजेपी का कब्जा है। भाजपा के ज्ञानेंद्र सिंह यहां से तीसरी बार चुने गए हैं। वे 2005 और 2010 में जदयू के टिकट से चुने गए थे। 2015 में जब जदयू महागठबंधन में चला गया था तब ज्ञानेंद्र पाला बदलकर भाजपा में चले गए और जीत हासिल की।

तब उन्होंने जदयू के मनोज कुमार को 8359 वोटों से हराया था। इसबार जदयू और बीजेपी साथ हैं। महागठबंधन ने कांग्रेस की तरफ से राजपूत समुदाय से ही स्थानीय सत्येंद्र बहादुर को उम्मीदवार बनाया है। यहां राजपूत मतदाता ही निर्णायक हैं। बलौर के कमलेश सिंह कहते हैं-हमलोग अंतिम समय में तय करेंगे किसे वोट देना है। कई समस्याएं हैं। क्या-क्या बताएं?

कांग्रेस प्रत्याशी की पंचायत से निर्दलीय भी मैदान में
यहां 18 प्रत्याशी हैं। अधिकतर प्रत्याशी राजपूत हैं। लड़ाई को दो पूर्व मुखिया ने रोचक बना दिया है। बिहारी बिगहा पंचायत के पूर्व मुखिया और पंडारक पूर्वी की जिला पार्षद के पति रणवीर कुमार पंकज और नवादा पंचायत के पूर्व मुखिया कर्मवीर सिंह यादव उर्फ लल्लू मुखिया निर्दलीय चुनावी मैदान में ताल ठोंक रहे हैं।

रणवीर पंकज और कांग्रेस के सत्येंद्र बहादुर एक ही पंचायत बिहारी बिगहा के हैं। इस सीट पर निर्णायक मतदाता राजपूत ही हैं। अनुमान के मुताबिक यहां राजपूत मतदाता 85 हजार हैं। वहीं यादव 30 हजार, अतिपिछड़ा 60 हजार, भूमिहार 18 हजार, मुसलिम 10 हजार, दलित महादलित 20 हजार और अन्य मतदाता हैं।
एएनएस कॉलेज में 10 विषयों के प्रोफेसर नहीं
बाढ़ अनुमंडल को जिला बनाने की मांग 70 के दशक से ही की जा रही है। कमोबेश सभी गांव तक बिजली और चमचमाती सड़क पहुंच गई है, लेकिन अब जनता इससे ज्यादा चाहती है। स्वास्थ्य और शिक्षा की स्थिति लचर है। अनुग्रह नारायण सिंह महाविद्यालय जहां हर साल पांच हजार बच्चे नामांकन लेते हैं वहां कम से कम दस विषयों के प्रोफेसर नहीं हैं।

एबीवीपी के छात्र नेता उमेश कुमार कहते हैं-हमारे काॅलेज में सिर्फ डिग्रियां बांट दी जाती हैं। फिजिक्स, केमेस्ट, इंग्लिश जैसे विषय के प्रोफेसर नहीं हैं। अनुमंडल अस्पताल भी बहुत बेहतर स्थिति में नहीं है। मंझला बिगहा के राजकिशोर यादव कहते हैं-हमलोग या तो प्राइवेट डॉक्टर या पटना के भरोसे रहते हैं।
अनुमंडल में एक भी ब्लड बैंक नहीं, जनता जाम से त्रस्त
लोग बाढ़ में एक विश्वविद्यालय की स्थापना भी चाहते हैं। लोगों का कहना है कि उमानाथ धाम को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाए। अगवानपुर के रोहित कुमार कहते हैं-सबसे पुराना अनुमंडल है बाढ़ लेकिन यहां एक ब्लड बैंक भी नहीं है। लोग प्रखंड स्तर पर कोल्ड स्टोरेज की मांग रहे हैं साथ ही बाढ़ स्टेशन और बाजार में आए दिन लगने वाले जाम से भी निजात चाहते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें