जागरुकता अभियान:आग लगने पर बचाव के लिए अग्निशमन विभाग ने शिक्षक व छात्रों को मॉकड्रिल कर किया जागरूक

हाजीपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अगलगी जैसी घटनाओं से निपटने के लिए अग्निशामक विभाग की टीम ने शिक्षक और छात्रों को मॉकड्रिल कर जागरूक किया। स्थानीय एसडीओ रोड स्थित जीए इंटर विद्यालय परिसर में रविवार को आयोजित जागरुकता अभियान चलाया गया।

इस दौरान स्काउट-गाइड से जुड़े शिक्षक एवं छात्रों के बीच विभाग के पदाधिकारियों ने मॉक ड्रिल कर आग से बचाव के लिए जागरुक किया। मॉकड्रिल के माध्यम से आग लग जाने की स्थिति में हम कैसे आग पर काबू पा सकते हैं एवं अपना बचाव कर सकते हैं सहित अन्य जानकारियां अग्निशामक टीम द्वारा दिया गया।

इस अवसर पर जिला अग्निशामक पदाधिकारी मोहम्मद फैज आलम, सूरी चौहान, एफएसओ, एफएसओ पी बमबम सिंह, अग्नि चालक रितेश कुमार एवं फायरमैन सुनील कुमार पासवान ने आग से कैसे सुरक्षा कर सकते हैं इसके विषय में शिक्षक और छात्रों को प्रशिक्षण के दौरान विभिन्न प्रकार की जानकारी दिया गया।

वहीं जिला संगठन आयुक्त ऋतुराज ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं जैसे भूकंप ,बाढ़ ,सुखार, आगजनी एवं महामारी से बचाव हेतु समय-समय पर स्काउट गाइड को प्रशिक्षण दिया जाता है, ताकि स्काउट्स गाइड्स इन प्राकृतिक आपदाओं की स्थिति में स्वयं अपने आप को सुरक्षित रखते हुए दूसरों की सेवा कर सके।

आग लगने पर इस तरह करें अपना बचाव
मॉकड्रिल के माध्यम से आग लग जाने की स्थिति में हम कैसे स्वयं को सुरक्षित रखते हुए दूसरों को मदद कर सकते इस विषय पर अग्निशमन विभाग के टीम के सदस्यों ने जागरुक किया। सदस्यों ने बताया कि बंद कमरे में आग लग जाती है तो उस समय कमरे के अंदर खिड़की को खोल देना चाहिए।

जिससे आग लगने से बन रहे कार्बन मोनो ऑक्साइड के संपर्क समाप्त हो जाएगा। एलपीजी गैस में आग लग जाने पर सलेंडर को गीले कपड़े से ढकना, विपरीत दिशा में खड़े होकर खाली बाल्टी से जलते एलपीजी को जोर से ढक दें, जिससे आग आग बुझ जाती है।

वन या जंगल में आग लगने पर ए से सूचित करें, गैस में आग लगने पर बी, तेल से आग सी से सूचित करना चाहिए। एबीसी के विषय में पदाधिकारियों ने विस्तार से जानकारी दिया। इस मौके पर स्काउट मास्टर उमेश कुमार प्रसाद सिंह, स्काउट मास्टर जीतेश कुमार, स्काउट लीडर मकेत कुमार, राज कुमार आनंद कुमार सहित अन्य छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...