पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • The Government Lifted The Ban, Jobs And Entrance Examinations Will Now Be Held, While The New Rules For Transfer Of Teachers Restored Through Municipal Bodies Will Be Implemented.

प्रतियोगिता परीक्षाओं का आयोजन:सरकार ने रोक हटाई,नौकरी और प्रवेश परीक्षाएं अब होंगी, वहीं नगर निकायों के माध्यम से बहाल शिक्षकों के स्थानांतरण की नई नियमावली लागू

पटना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पढ़ाई, नौकरी और शिक्षकों के तबादले को लेकर सीबीएसई व बिहार सरकार का फैसला - Dainik Bhaskar
पढ़ाई, नौकरी और शिक्षकों के तबादले को लेकर सीबीएसई व बिहार सरकार का फैसला

राज्य सरकार के आयोगों, पर्षद, बोर्डों एवं अन्य समतुल्य संस्थानों द्वारा नियुक्ति एवं विभिन्न व्यवसायिक पाठ्यक्रमों में प्रवेश व चयन के लिए प्रतियोगिता परीक्षाओं का आयोजन होगा। प्रतियोगिता परीक्षाओं का आयोजन कोविड अनुकूल व्यवहार एवं एसओपी के साथ ही होगा। इस संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश और एसओपी शिक्षा विभाग जारी करेगा। गृह विभाग ने इस बाबत आदेश जारी कर दिया है। राज्य में फिलहाल अनलॉक 4 लागू है।

11वीं से ऊपर के संस्थान खुले|अनलॉक 4 के दिशा-निर्देश के अनुसार विश्वविद्यालय, कॉलेज, तकनीकी शिक्षण संस्थान तथा ग्यारहवीं से बारहवीं कक्षा तक के स्कूल खोलने की इजाजत दी गयी है। कुल छात्रों की 50 प्रतिशत उपस्थिति ही मान्य है।

11वीं से ऊपर के संस्थान खुले|अनलॉक 4 के दिशा-निर्देश के अनुसार विश्वविद्यालय, कॉलेज, तकनीकी शिक्षण संस्थान तथा ग्यारहवीं से बारहवीं कक्षा तक के स्कूल खोलने की इजाजत दी गयी है। कुल छात्रों की 50 प्रतिशत उपस्थिति ही मान्य है।

रिक्त पदों पर ट्रांसफर नहीं होगा, पटना से जितने जाएंगे उतने ही शिक्षक आएंगे

पंचायत व नगर निकायों के माध्यम से बहाल शिक्षकों के स्थानांतरण की नई नियमावली लागू हो गई है, पर इसका फायदा बहुत कम लोगों मिलेगा। शिक्षकों के खाली पद ट्रांसफर से नहीं भरे जाएंगे। यानी जिन 1.21 लाख पदों पर फिलवक्त नियुक्ति हो रही है, वह सीटें ट्रांसफर लिस्ट शामिल नहीं हैं। महिला व दिव्यांग शिक्षकों की वरीयता निर्धारण में भी भ्रांति है। दिव्यांग शिक्षक भी उसी पद पर स्थानांतरित होंगे, जिस पर उनकी नियुक्ति हुई है। एक शिक्षक तीन स्थानों का ही अिधकतम विकल्प दे पाएंगे।

ये हैं प्रावधान: सभी डीईओ जिलावार, नियोजन इकाईवार, विषयवार, कोटिवार रिक्त पदों की सूचना वेब पोर्टल पर अपलोड करेंगे। रिक्त पद वहीं माना जाएगा जहां हुई नियुक्ति के बाद किसी ने नौकरी छोड़ दी या ज्वाइन नहीं की। जिन पदों पर नियुक्तियां हो रही हैं वे रिक्त पद नहीं माने जाएंगे।

ये हैं प्रावधान: सभी डीईओ जिलावार, नियोजन इकाईवार, विषयवार, कोटिवार रिक्त पदों की सूचना वेब पोर्टल पर अपलोड करेंगे। रिक्त पद वहीं माना जाएगा जहां हुई नियुक्ति के बाद किसी ने नौकरी छोड़ दी या ज्वाइन नहीं की। जिन पदों पर नियुक्तियां हो रही हैं वे रिक्त पद नहीं माने जाएंगे।

खबरें और भी हैं...