पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • The Son in law Had Murdered The Retired Bank Manager With The Intention Of Grabbing 60 Lakhs Of The Land.

रिश्ते का कत्ल:दामाद ने जमीन की 60 लाख रकम हड़पने की नीयत से रिटायर्ड बैंक मैनेजर की कराई थी हत्या

पटना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दाे शूटराें काे दी एक लाख की सुपारी, पांच गिरफ्तार, कार चालक की भूमिका भी संदिग्ध

फतुहा फाेरलेन पर रिटायर बैंक मैनेजर शैलेंद्र कुमार की हत्याकांड की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। पुलिस काे जिसपर शक था, वह सही साबित हुअा। शैलेंद्र के दामाद पवन ने ही जमीन की रकम हड़पने के लिए उनकी हत्या करा दी। हत्या कराने के लिए रामकृष्णानगर में किराए के मकान में रहने वाले पवन ने दाे शूटराें काे एक लाख की सुपारी दी थी। चर्चा यह भी है कि सुपारी देने के लिए पवन ने जेवरात की चाेरी भी की थी। पुलिस ने इस हत्याकांड में पवन के अलावा दाे शूटराें काे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने तीन अन्य काे भी रामकृष्णानगर से उठाया है।

तीनाें से पुलिस पूछताछ करने में जुटी है। जिस हथियार से 5 जून काे बिहारशरीफ के गढ़पर माेहल्ले के रहने वाले शैलेंद्र काे गाेलियाें से भून दिया गया था, उसे बरामद करने के लिए पुलिस छापेमारी करने में जुटी है। इस मामले में शैलेेंद्र के चालक अनिल उर्फ धर्मेंद्र की भूमिका भी शक के घेरे में है। अपराधियाें ने शैलेंद्र की हत्या करने से पहले उनके हाथ में गाेली मार घायल कर दिया था। सूत्राें के अनुसार, पुलिस एक-दाे दिन में इस हत्याकांड का खुलासा कर देगी।

जमीन की खरीदारी हुई थी, रकम दामाद के पास ही थी
रिटायर्ड हाेने के बाद शैलेंद्र ने बिहारशरीफ रेलवे स्टेशन के पास चार-पांच कट्ठे का एक प्लाॅट 60 लाख में खरीदा था। इस जमीन काे पवन ने ही तय किया था। सूत्राें के अनुसार, शैलेंद्र ने पवन काे इस जमीन की सारी रकम दी थी। इस रकम में कुछ रकम पवन ने जमीन मालिक और दलाल काे दिए पर ज्यादा रकम अपने पास रख लिया। इसी रकम काे वे गबन करना चाह रहा था। हालांकि रजिस्ट्री की तिथि 17 जून काे तय हाे गई थी। छाेटे बेटे मनीष के नाम पर जमीन की रजिस्ट्री हाेनी थी। वह इसी के लिए गुवाहाटी से 5 जून काे पटना अाया था।

ससुर के दाह-संस्कार के दूसरे दिन पवन आ गया था रामकृष्णा नगर

नालंदा जिला के उत्तरथू गांव के रहने वाले पवन की शादी शैलेंद्र की इकलाैती बेटी सृष्टि सिन्हा से जुलाई 2018 में हुई थी। वह काेचिंग चलाता है। रामकृष्णानगर में किराए के मकान में परिवार के साथ रहता है। घटना के दिन पवन रामकृष्णानगर में ही था। 5 जून काे जब हत्या हुई तब वह पीएमसीएच गया फिर शव के साथ बिहारशरीफ चला गया। 5 जून काे शैलेंद्र का दाह-संस्कार कर दिया गया। 6 जून काे ही पवन वहां से ससुराल में यहकर चला गया कि उसे मां की इलाज कराने जाना है। मनीष ने बताया कि मंगलवार काे पवन ससुराल आए।

थाेड़ी देर बाद बाद निकल गए। ससुराल के निकलने के बाद बहन सृष्टि ने पवन से फाेन कर पूछा कि कहां चले गए। उसपर पवन ने कहा कि फल खरीदने और जरूरी काम से जा रहे हैं पर हकीकत यह थी कि पुलिस ने ससुराल से बाहर निकलते ही सादी वर्दी में माैजूद पुलिस ने उसे उठा लिया अाैर उसे लेकर वहां से पटना के लिए रवाना हाे गई।

खबरें और भी हैं...