पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • The Wall Will Be Built 3 Feet High From Both Sides Of 9 Big Drains, Construction Has Been Done In Yogipur

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बुडको की योजना:9 बड़े नालों के दोनों किनारे सड़क से 3 फीट ऊंची बनाई जाएगी दीवार, योगीपुर में किया गया है निर्माण

पटना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरकार की स्वीकृति मिलने के बाद अब निविदा की तैयारी

राजधानी के नौ बड़े नालों की मरम्मत हाेगी। ये नाले खुले हुए हैं। उनके दोनों किनारों पर सड़क बनी हुई है। इन पर यातायात लोड भी है। इन खुले नालों के किनारे साइड वाॅल नहीं रहने से हमेशा दुर्घटना का खतरा बना रहता है।

नगर विकास विभाग की ओर से बुडकाे के माध्यम से सभी ओपन ड्रेन में साइड वाॅल का निर्माण कराया जाएगा। योगीपुर नाला में इसका निर्माण किया गया है। यह सड़क से तीन से पांच फीट तक ऊंचा है। इसी प्रकार की स्थिति बाइपास नाला, सैदपुर नाला, बाकरगंज नाला, सर्पेंटाइन नाला, मंदिरी नाला, पटेल नगर नाला, आनंदपुरी नाला और आशियाना-दीघा रोड के बाद राजीवनगर नाले में साइड वाॅल के निर्माण की योजना तैयार की गई है। इसे सड़क से करीब तीन फीट तक ऊंचा बनाया जाएगा। पिछले दिनों सैदपुर नहर में एक गाड़ी पलट गई थी।

हालांकि, उसमें लोगों के नहीं रहने से जानमाल का नुकसान नहीं हुआ। इसी प्रकार मंदिरी नाले में भी वाहनों के गिरने का मामला सामने आता रहा है। बाइपास नाले की उड़ाही के दौरान एक बाइक सवार गाड़ी के साथ नीचे गिर गया था। लोगों की तत्परता से उसे बचा लिया गया। ऐसी दुर्घटना पर रोक के लिए साइड वाॅल बनाने की योजना तैयार की गई है। पानी बढ़ने की स्थिति में कच्चे साइड वाल के खंगलने से दुर्घटना होने की स्थिति पैदा होती है।

आयुक्त बोले- बुडको ने नाले के साइड वाल के निर्माण की योजना बनाई है
पिछली बारिश के दौरान सैदपुर नहर में साइड वाल ढह गया था। इससे सड़क पर यातायात प्रभावित हुआ था। इसके बाद से लगातार सैदपुर नहर के साइड वाॅल की मरम्मत का कार्य पूरा कराने की मांग होती रही है। इस मुद्दे को स्थानीय विधायक अरुण कुमार सिन्हा की ओर से लगातार नगर विकास विभाग के स्तर पर उठाया जाता रहा है।

अब इस मामले पर कार्रवाई शुरू हुई है। नगर निगम की विशेष बजट बैठक में पार्षदों की ओर से मध्य प्रदेश के सीधी में ओपन नहर में हुई दुर्घटना के कारण लोगों की मौत के मामले पर शहर की व्यवस्था में बदलाव का सवाल उठाया गया। इस पर नगर आयुक्त हिमांशु शर्मा ने साफ किया है कि बुडको की ओर से नाला के साइड वाल निर्माण की योजना बनाई गई है। सरकार की स्वीकृति मिल चुकी है। इसकी निविदा के बाद योजना पर काम शुरू कर दिया जाएगा।

खुले नाले को पाटने पर एनजीटी ने लगाई रोक
खुले नाले को पाटने पर एनजीटी की ओर से रोक लगाई गई है। इसके बाद सितंबर 2019 के भीषण जलजमाव के बाद सरकार की ओर से भी ओपन ड्रेन को ढंकने पर रोक लगाई गई है। दरअसल, ढंके नालों की सफाई में होने वाली गड़बड़ी के कारण सरकार की ओर से यह रोक लगाई गई है। पहले बड़े नालों को ढककर सड़क निर्माण की योजनाएं बनाई गई थी। नगर आयुक्त ने भी कहा कि मंदिरी नाला व बाकरगंज नाला को स्मार्ट सिटी के तहत ढंककर बनाई जाने वाली सड़क पर रोक लगी है। इस मामले में लगातार उच्च स्तर पर समीक्षा की जा रही है। ऐसे में बुडको की योजना से लोगों को दुर्घटना से राहत मिल सकती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें