निर्देश:चुलाई शराब पर रोक लगाने के लिए अब गुड़ बेचने वाले और खरीदारों पर भी नजर

हाजीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नशामुक्ति अभियान में हुई कार्रवाई की समीक्षा करते डीएम और अन्य। - Dainik Bhaskar
नशामुक्ति अभियान में हुई कार्रवाई की समीक्षा करते डीएम और अन्य।
  • जिले को नशामुक्त बनाने के लिए पंद्रह दिनों से चलाए जा रहे अभियान की समीक्षा की गई

वैशाली जिले को नशामुक्त बनाने के लिये पिछले पंद्रह दिनों से चलाये जा रहे जागरुकता और शराब सेवन से जुड़े धंधेबाज एवं शराब सेवन करने वाले लोगों पर हुए कार्रवाई पर समीक्षा बैठक की गई। स्थानीय समाहरणालय परिसर स्थित डीएम कार्यालय कक्ष में समीक्षा बैठक की गई। अध्यक्षता करते हुए डीएम उदिता सिंह ने जिले के सभी एसडीओ, एसडीपीओ एवं अधीक्षक मद्य निषेध के साथ शराब के व्यवसाय, सेवन से जुड़े लोगों की गिरफ्तारी छापेमारी जब्ती, वाहन अधिग्रहण एवं अन्य संबंधित मामलों की समीक्षा की। बैठक में शामिल पदाधिकारियों को डीएम ने निदेश देते हुए इस अभियान में और तेजी लाने के लिए छापेमारी एवं गिरफ्तारी अभियान में तेजी लाने के लिए निर्देश दिया।
जिले में चलेगा सघन वाहन चेकिंग अभियान
नशामुक्ति अभियान की सफलता को लेकर डीएम उदिता सिंह ने कई निर्णय लेते हुए पदाधिकारियों को कई दिशा निर्देश दिया। डीएम ने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में युद्ध स्तर पर गश्ती किया जाएगा। जिसमें मुख्य रुप से गांधी सेतु, जेपी सेतु, महुआ, पातेपुर के बालिगाँव, भगवानपुर, गोरौल बाॅर्डर पर सघन चेकिंग की जाएगी। चेकिंग अभियान में शामिल पुलिस बल चेकिंग के समय ब्रेथ एनलाइजर के साथ बड़ी छोटी वाहन चालक और आशंका होने पर यात्रियों को शराब सेवन का ऑन स्पॉट जांच किया जाएगा।

होम डिलीवरी करने वालों पर रहेगी कड़ी नजर
डीएम ने कहा शराब की होम डिलीवरी करने वालों पर कड़ी नजर रखी जाएगी। केवल डिलीवरी ब्वाॅय को पकड़ने से काम नहीं चलेगा। उन्होंने कहा यह भी पता किया जाय कि आपूर्तिकर्ता कौन है और शराब कहां से उठायी गयी है। चुलाई की शराब गुड़ और नौसादर से बनायी जा रही है। इस पर नकेल कसने की जरूरत है। उन्होंने जिले के सभी अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा गुड़ का व्यवसाय करने वाले सभी बड़े व्यवसायियों के साथ बैठक कर उन्हें एक पंजी रखने के लिए प्रेरित किया जाएगा। पंजी में गुड़ खरीदने वाले का पता और मात्रा निश्चित रूप से अंकित करें। व्यवसायी गुड़ बेचते समय यह जरूर पूछें कि खरीदार इसका क्या करेगा। समय-समय पर अनुमंडल पदाधिकारी के नेतृत्व में इसके विरुद्ध सघन छापेमारी की जाएगी। गुड़ के व्यवसायी ही नौसादर भी रखते हैं इस पर भी नजर रखी जायेगी।

दियारा क्षेत्र में होगी रीवर पेट्रोलिंग
जिलाधिकारी ने कहा इथेनाल व अन्य अल्कोहलिक पदार्थों को स्टोर नहीं किया जा सके इसके लिए अभियान चल रहा है। इसके अंतर्गत दियारा क्षेत्र और गंगा किनारे सघन जांच के लिए रीवर पेट्रोलिंग कराने के लिए संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया। बैठक में 16 नवम्बर के बाद से अब- तक पुलिस विभाग और मद्यनिषेध विभाग की ओर की गई कार्रवाई के विषय में विस्तृत जानकारी दी गई। पिछले पंद्रह दिनों में जिले में कुल 111 एवं मद्यनिषेध विभाग के द्वारा कुल 106 छापेमारी की गयी है। जिसमें पुलिस विभाग ने कुल 125 तथा मद्यनिषेध विभाग ने कुल 06 लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि 24 लोगों के विरुद्ध अभियोजन चलायी जा रही है। 380 लीटर चुलाई व 956 लीटर विदेश शराब जब्ती हुई है।

जिले के 16 स्थानों पर निगरानी के लिए लगेगा सीसीटीवी कैमरा
अधीक्षक मद्यनिषेध ने बताया कि इस अभियान के अंतर्गत कुल 16 स्थानों को चिन्हित किया गया है। चिह्नित जगहों पर मॉनिटरिंग के लिए गुप्त रूप से सीसीटीवी कैमरा लगाया जा रहा है। यह कार्य 5 दिसम्बर तक हर परिस्थिति में पूर्ण हो जाएगा। वहीं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी हाजीपुर ने बताया कि राघोपुर प्रखंड क्षेत्र में सभी भट्ठियाें को ध्वस्त कर दिया गया है। अभियान के अंतर्गत कुल 57 डिलीवरी ब्वाय को पकड़ा गया है। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी महुआ ने बताया कि डिलीवरी देने वाले लड़कों की सूची बनाने का दायित्व सभी चौकीदारों को दिया गया है। जिसमें अबतक इस लड़कों की पहचान कर ली गयी है। वहीं डीएम ने कॉल सेन्टर की रिपोर्ट मांगते हुए सभी जब्त वाहनों का मूल्यांकन कराकर नीलामी की कार्रवाई शीघ्र पूरी करने के लिए निर्देश दिया गया है।

खबरें और भी हैं...