पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तैयारी:विसर्जन के लिए पटना सिटी में बनाए गए दो अस्थायी थाने, सीसीटीवी कैमरे से होगी निगरानी

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पटना सिटी के हाजीगंज में मां दुर्गा की मूर्ति।
  • भद्रघाट और गायघाट पर कलश विसर्जित करने आने वालों की सीसीटीवी कैमरे से होगी निगरानी

कोरोना के बीच कुछ जगहों पर पूजा समिति की ओर से देवी की छोटी प्रतिमाओं की स्थापना की गई है। प्रशासन ने इसके लिए सुरक्षा एवं विधि व्यवस्था के लिए तैयारी की है। एसडीओ मुकेश रंजन ने बताया कि विसर्जन स्थल भद्रघाट व गायघाट में अस्थायी थाना कार्यरत होगा। प्रमुख स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जाएगी।

श्री गुरु गोविंद सिंह कॉलेज घाट व कच्ची घाट पर पानी में खतरनाक गड्ढे को देखते हुए वार्ड 67 के पार्षद मनोज कुमार उर्फ मुन्ना जायसवाल और विनय कुमार बिट्टू ने प्रशासन से वहां पर गोताखोरों की तैनाती एवं सुरक्षा के अन्य इंतजाम करने के लिए प्रशासन को पत्र सौंपा है। इस घाट पर काफी संख्या में लोग कलश विसर्जित करने के लिए आते हैं।

बनाया गया नियंत्रण कक्ष

दुर्गापूजा में विसर्जन के दिन विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर दो जगहों पर अस्थायी थाना खोला जाएगा। यह तीन पालियों में काम करेगा। इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है। वहीं अनुमंडल कार्यालय में भी नियंत्रण कक्ष काम करेगा। एसडीओ मुकेश रंजन ने बताया कि विसर्जन स्थल भद्र घाट एवं गायघाट के निकट अस्थायी थाना खोला जाएगा, जहां दंडाधिकारी एवं पुलिस बल की तैनात हाेगी।

अनुमंडल में विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर कुल 46 स्थानों पर पुलिस बल के साथ दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है, ताकि लोगों को किसी तरह की परेशानी न हो। इधर, पटना सिटी के फायर ऑफिसर अजय कुमार शर्मा ने बताया कि भद्रघाट एवं गायघाट पर फायर ब्रिगेड की एक-एक यूनिट तैनात रहेगी।

भद्रघाट का मुख्य द्वार विसर्जन के लिए सज-धज कर तैयार
पटना सिटी|दुर्गापूजा को लेकर विसर्जन स्थल भद्रघाट का मुख्य द्वार सज-धज कर तैयार है। मुख्य द्वार को आकर्षण ढंग से सजाया गया है। हालांकि, इस बार प्रतिमा स्थापित करने की अनुमति नहीं मिलने के कारण केवल कलश स्थापना ही की गई है। इक्के-दुक्के जगहों पर छोटी प्रतिमाएं बैठाई गई हैं। प्रतिमाओं का विसर्जन विजयादशमी के दिन होगा।

भद्रघाट पूजा समिति ने बताया कि इस घाट पर लगातार 36 घंटे तक सैकड़ों प्रतिमाओं का विसर्जन होता रहा है, पर इस साल ऐसा देखने को नहीं मिलेगा। भद्रघाट के आसपास भव्य मेले का आयोजन होता रहा है, पर इस साल सन्नाटा पसरा है।

इधर, शक्ति पीठाें में दर्शन को लेकर शनिवार को भी भीड़ रही। शक्तिपीठ बड़ी पटन देवी मंदिर, छोटी पटन देवी मंदिर एवं अगमकुआं स्थित शीतला माता मंदिर प्यारे लाल के बाग स्थित शीतला माता के मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ रही। मंदिरों को आकर्षक ढंग से सजाया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें