• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Uncle And Brother in law Were Giving Manoj's Support, 10 Lakh Cash Recovered Along With 10 And A Half Kg Of Ganja

पटना में गांजा कारोबारी पर पुलिस का शिकंजा:चाचा और साला दे रहे थे मनोज का साथ, 10.5 किलो गांजा के साथ 10 लाख कैश बरामद

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस के शिकंजे में गांजा के धंधेबाज। - Dainik Bhaskar
पुलिस के शिकंजे में गांजा के धंधेबाज।

शहर में गांजा का धंधा करने वाले मनोज कुमार को पुलिस ने पकड़ा है। इस गोरखधंधे में मनोज का साथ उसके चाचा दिनेश सिंह और साला राजू कुमार दे रहे थे। पुलिस ने इन तीनों के साथ ही इन्हें गांजा के खेप की सप्लाई करने वाले मंटू कुमार उर्फ मंजय कुमार को भी गिरफ्तार किया है। इनके पास से साढ़े 10 किलो गांजा और 10 लाख रुपया कैश बरामद किया है।

राजीव नगर थाना की पुलिस ने सबसे पहले मनोज को अपने कब्जे में लिया। फिर बाकी के लोगों को। मनोज मूल रूप से मुजफ्फरपुर के तुर्की का रहने वाला है। मगर, राजीव नगर के गांधीनगर कंचनपुरी में खुद का घर बना रखा है। इसी घर में राजू किराए पर रहता है। वो मूल रूप से वैशाली के बेलसर का रहने वाला है। राजीव नगर के रोड नंबर 6 में मनोज के चाचा दिनेश सिंह ने अपना घर बना रखा है। वहीं, सप्लायर मंटू नकटा दियारा का रहने वाला है, पर वर्तमान में दीघा थाना के तहत पोल्सन रोड में रहता है।

सिटी एसपी सेंट्रल अम्बरीश राहुल के अनुसार अटलपथ पर गांजा बेचे जाने की शिकायत लगातार मिल रही थी। इसी आधार पर पुलिस टीम ने अपनी जांच शुरू की। फिर कार्रवाई की। काफी समय से मनोज यह धंधा कर रहा था। छपरा और सीवान से इसके पास गांजा की खेप पहुंचाई जा रही थी। नशा के सामान का कारोबार कर गिरफ्तार लोगों ने अकूत संपत्ति अर्जित कर ली है। जिसमें घर, जमीन, कार, दो स्कूटी, 6 मोबाइल और दूसरे सामान शामिल हैं।

इन सभी के खिलाफ NDPS एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। इनके द्वारा अर्जित की गई संपत्ति की जांच की जाएगी। जांच के बाद संपत्ति को जब्त किया जाएगा और फिर उसे नीलाम किया जाएगा। फिलहाल पुलिस की टीम मनोज सहित गिरफ्तार सभी लोगों के कनेक्शन को खंगाल रही है। इन सभी की हिस्ट्री भी पता कर रही है।