पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना का असर:खानकाह मुजीबिया में उर्स पर नहीं लगेगा मेला व झूला

पटना9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 30 अक्टूबर काे होगा आयाेजन, टूटेगी 400 साल की परंपरा

खानकाह मुजीबिया फुलवारीशरीफ में इस्लाम धर्म के प्रवर्तक पैगम्बर माेहम्मद साहब का सालाना उर्स इसबार 30 अक्टूबर काे हाेगा। देश-विदेश में चर्चित इस उर्स का आयाेजन 28 अक्टूबर से शुरू हाेगा। 400 साल से इस खानकाह में हर साल उर्स का आयाेजन हाेता आ रहा है। लेकिन, पहली बार मेला नहीं लगेगा।

खानकाह प्रबंधन ने काेराेना की वजह से मेला, झूला और दुकानें लगाने पर पाबंदी लगा दी है। 30 अक्टूबर काे जाेहर की नमाज के बाद मुए मुबारक की जियारत कराई जाएगी। इसमें साेशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह से पालन कराया जाएगा। मास्क पहन कर अकीदतमंद मुए मुबारक की जियारत कर सकेंगे। सेनेटाइजर की भी व्यवस्था रहेगी। तीन दिन तक चलने वाले सालाना उर्स के दाैरान खानकाह परिसर काे सेनेटाइज भी किया जाएगा।

अकीदतमंदाें की तादाद कम रहने की संभावना
काेराेना की वजह से इस साल अकीदतमंदाें की तादाद कम रहने की संभावना है। यहां के उर्स में बांग्लादेश और नेपाल समेत अन्य पड़ाेसी देशाें से भी अकीदतमंद आते हैं और मुए मुबारब की जियारत करते हैं। खानकाह मुजीबिया के प्रबंधक माैलाना मिंहाजुद्दीन मुजीबी ने बताया कि इस साल उर्स हाेगा, लेकिन काेराेना की वजह से मेला व झूला नहीं लगेगा। मेला और झूला लगने से भीड़ हाेगी जिससे काेराेना फैलने का खतरा है। स्थानीय दुकानाराें काे भी दुकान लगाने नहीं दिया जाएगा। मुए मुबारक की जियारत मास्क और साेशल डिस्टेंसिंग के साथ हाेगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें